पेशावर एयरपोर्ट के पास रॉकेट हमले, चार मरे

 शनिवार, 15 दिसंबर, 2012 को 23:59 IST तक के समाचार
पेशावर में सुरक्षा बल

सुरक्षा बल घटनास्थल पर पहुंच गए हैं (फाइल फोटो)

पाकिस्तान के पेशावर शहर में हवाई अड्डे को निशाना बना कर किए गए रॉकेट हमलों में कम से कम चार लोग मारे गए हैं और 30 से ज्यादा घायल हुए हैं

पुलिस और प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि रॉकेट के जरिए एयरपोर्ट को निशाना बनाया गया था जो पास ही बने रिहायशी इलाके में आ गिरे. स्थानीय संवाददाताओं का कहना है कि कम से कम तीन रॉकेट दागे गए.

बीबीसी संवाददाता दिलावर खान वजीर ने बताया कि धमाकों से आसपास के कई मकानों के शीशे टूट गए.

पेशावर के एक पुलिस अफसर खालिद हमदानी ने बताया कि दो धमाके हुए हैं और पुलिस की टीमें वहां पहुंच गई हैं.

पुलिस अधिकारी के अनुसार ऐसा मालूम होता है कि जैसे रॉकेट फायर किए गए हैं.

रास्ते सील

खैबर पख्तून ख्वाह प्रांत के वरिष्ठ मंत्री बशीर अहमद बिलौर ने कहा है कि सुरक्षा बल स्थिति पर नियंत्रण कर रहे हैं.

ये साफ नहीं है कि चरमपंथी एयरपोर्ट में घुसे हैं या नहीं. सरकारी चैनल पीटीवी ने कहा कि पेशावर एयरपोर्ट की तरफ जाने वाले रास्तों को बंद कर दिया है.

पाकिस्तान के निजी टीवी चैनलों पर प्रसारित तस्वीरों में दिखाया गया है कि धमाके वाली जगह पर लोग अफरा तफरी में इधर उधर भाग रहे हैं और हथियारबंद पुलिसकर्मियों के दस्ते इलाके में पहुंचे गए हैं.

पेशावर एयरपोर्ट को व्यावसायिक उड़ानों के अलावा पाकिस्तानी वायुसेना भी इस्तेमाल करती है.

पाकिस्तान के कबायली इलाकों में होने वाले सैन्य ऑपरेशनों के दौरान इस्तेमाल होने वाले गन शिप हेलीकॉप्टर पेशावर एयरपोर्ट से ही उड़ान भरते हैं.

खैबर पख्तून ख्वाह के संचार मंत्री ने पत्रकारों को बताया कि ताजा हमले के बाद पेशावर एयरपोर्ट को सुरक्षा बलों ने अपना घेराव कर लिया है.

अभी ये पता नहीं चल सका है कि इन हमलों के पीछे किसका हाथ है लेकिन 12 दिसंबर को पाकिस्तान के गृह मंत्रालय ने कहा था कि पाकिस्तानी तालिबान और लश्कर-ए-इस्लाम पेशावर में सरकारी प्रतिष्ठानों को निशाना बनाने की योजना बना रहे हैं जिनमें पेशावर का हवाई अड्डा भी शामिल है.

इसे भी पढ़ें

टॉपिक

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.