पाक: 21 सुरक्षाकर्मियों के गोलियों से छलनी शव मिले

  • 30 दिसंबर 2012
पाक बस हमला
Image caption मसतूंग क्वेटा से पैंतीस किलोमीटर दूर है.

पाकिस्तान में अधिकारियों का कहना है कि उन्हें गुरुवार को अगवा किए गए 21 सुरक्षाकर्मियों के गोलियों से छलनी शव देश के पश्चिमोत्तर में मिले हैं.

जिस जगह ये शव मिले हैं वो जगह पेशावर के उन सैन्य कैंपों से मात्र चार किलोमीटर की दूरी पर है जहाँ से सुरक्षाकर्मियों का अपहरण किया गया था.

अगवा किए गए सुरक्षाबलों में एक भागने में कामयाब हो गया था और उसने घटना की खबर अधिकारियों को दी थी.

अधिकारियों का कहना है कि मारे गए लोगों के हाथ बंधे हुए थे और उन्हें पंक्ति में खड़ा करके गोली मार दी गई थी.

तालेबान चरमपंथियों ने अपहरण की जिम्मेदारी ली है.

आत्मघाती हमला

उधर दक्षिणी पश्चिमी पाकिस्तान के बलूचिस्तान सुबे में बस के एक का़फिले पर हुए आत्मघाती हमले में कम से कम 15 लोगों की मौत हो गई है जबकि कई घायल हैं.

इन बसों में शिया तीर्थयात्री मौजुद थे जो इरान से मुल्क वापस जा रहे थे. हमला सुबे के मसतूंग इलाक़े में हुआ.

मारे जाने वालों में चार महिलाएं भी शामिल थीं.

समाचार एजेंसियों के मुताबिक़ क़ाफ़िले में मौजुद एक बस में आग लग गई और वो पूरी तरह ध्वस्त हो गई.

घटना में हताहत लोगों की लाशे बुरी तरह से जल चुकी हैं जिसने उनकी पहचान मुश्किल हो गई है.

संवाददाताओं का कहना है कि साल भर के दौरान पाकिस्तान के भीतर कई चरमपंथी हमले हुए हैं.

बीबीसी से बातचीत में एक प्रांतीय अधिकारी अकबर हुसैन दुर्रानी ने कहा है कि यात्रियों की तीन बसें इरान से क्वेटा आ रही थीं कि उनपर हमला हो गया.

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार