बराक ओबामा ने धूमधाम के साथ की दूसरी पारी की शुरुआत

 मंगलवार, 22 जनवरी, 2013 को 02:24 IST तक के समाचार
बराक ओबामा

राजधानी वॉशिंगटन स्थित यूएस कैपिटॉल पर सोमवार को बराक ओबामा ने अपने हज़ारों समर्थकों की मौजूदगी में एक संगीतमय कार्यक्रम में राष्ट्रपति के तौर पर दूसरे कार्यकाल के लिए शपथ ग्रहण कर ली है.

क्लिक करें तस्वीरों में: जलवा बराक ओबामा का

मुख्य न्यायाधीश जॉन रॉबर्ट्स ने बराक ओबामा को राष्ट्रपति पद की शपथ दिलाई.

इस अवसर पर अपने समर्थकों को संबोधित करते हुए ओबामा ने कहा कि युद्ध का एक दशक अब पूरा हो रहा है और आर्थिक मोर्चे पर बेहतरी शुरू हो गई है.

ओबामा ने दुनियाभर में उम्दा स्वास्थ्य सेवाओं की बात करते हुए जलवायु परिवर्तन से लड़ने की जरूरत पर भी बल दिया.

उन्होंने कहा कि अपने वित्तीय घाटे में भारी कटौती का विकल्प अमरीका के लिए आसान नहीं था लेकिन अमरीका जीवन, स्वतंत्रता और प्रसन्नता के बुनियादी सिद्धातों से बंधा हुआ है.

हालांकि ओबामा रविवार को व्हाइट हाउस में एक सादे समारोह में राष्ट्रपति पद की औपचारिक शपथ पहले ही ले चुके हैं क्योंकि अमरीकी संविधान के मुताबिक नए राष्ट्रपति का कार्यकाल 20 जनवरी से शुरु हो गया है.

ओबामा ने अपने भाषण में अमरीका में बंदूक रखने की संस्कृति पर लगाम लगाने की भी बात की.

साथ ही उन्होंने अगले चार साल में अमरीका को किस दिशा में लेकर जाना चाहेंगे उसके भी संकेत दिए.

उन्होंने कहा, "एक दशक का युद्ध अब खत्म होने जा रहा है. अमरीका विकास की राह पर है और संभावनाएं अनंत है. हम इसी मौके के लिए हैं, हम सभी अमरीकावासियों को ये मौका साथ मिलकर छीन लेना चाहिए."

शपथ

संविधान के अनुरूप, बराक ओबामा ने रविवार को शपथ ली थी कि वे 'अमरीकी राष्ट्रपति के तौर पर देश के संविधान की रक्षा के लिए अपनी पूरी क्षमता के साथ, अपने कर्तव्यों का श्रद्धापूर्वक निर्वहन करेंगे.'

सोमवार को दोबारा शपथ ग्रहण के दौरान बराक ओबामा ने सार्वजनिक रूप से बाइबिल पर अपना बायां हाथ रखकर इन्हीं शब्दों को दोहराया और उम्मीद जताई कि ईश्वर उनकी मदद करेंगे.

इस अवसर पर हज़ारों समर्थकों के अलावा, अमरीका के पूर्व राष्ट्रपति बिल क्लिंटन, जिमी कार्टर और बड़ी संख्या में सीनेट के नेता मौजूद थे.

ओबामा ने अपने समर्थकों का शुक्रिया अदा किया जो 'ओबामा-ओबामा' के नारे लगा रहे थे.

इसे भी पढ़ें

टॉपिक

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.