चिमनी पर बैठी चिड़िया ने खींचा दुनिया का ध्यान

वेटिकन में नए पोप का चुनाव हो गया है. अर्जेटीना के 76 वर्षीय खोर्खे बेर्गोगलियो ने नाम लिया है फ्रांसिस प्रथम. चुनाव के लिए चिमनी से सफेद धुआं निकलना अनिवार्य है. लेकिन इस धुआं निकलने से पहले कुछ अजब-गजब हुआ.

चिमनी के पास दो समुद्री चिड़िया यानी सीगल्स आ गए. एक तो वहां के आस-पास तब तक मंडराता रहा जब तक पोप का चुनाव नहीं हो गया. वेटिकन के प्रवक्ता थॉमस रोसिका से जब इसके बारे में पूछा गया तो उनका कहना था, ''हो सकता है कि ये पवित्र आत्मा हो या पवित्र आत्मा की छवि हो जो कुछ संदेश दे रहा हो. हो सकता है उसके संदेश के बाद पोप का चुनाव हो ही जाए. ''

इस सीगल को हटाने के लिए दूसरा सीगल आया लेकिन ये हटा नहीं. सीगल लोगों में इतना लोकप्रिय हो गया है कि कुछ ही घंटों में उसका ट्विटर अकाउंट बन गया @sisitineseagull और इसको फॉलो करने वालों की संख्या आठ हज़ार से अधिक हो गई.

सिस्टीन सीगल ने ट्वीट करना भी शुरू किया और लिखा कि अब पोप का चुनाव हो गया है तो मैं अर्जेंटीना जाकर देखूंगा कि वहां की चिमनियां कैसी हैं.

चिमनी पर जब सीगल शुरुआती दौर में बैठा तो उसने अपनी चोंच से चिमनी को खोदने की भी कोशिश की.

चिमनी पर बैठने से पहले यह सीगल वेटिकन परिसर में ही बनी संत पीटर की मूर्ति पर भी बैठा था. वेटिकन के चर्च का नाम भी संत पीटर के नाम पर ही रखा गया है और पीटर तो ईसा मसीह के सबसे बड़े भक्तों में गिना जाता है.

संबंधित समाचार