सैमसंग- एचटीसी जंग में बच्चों का इस्तेमाल

Image caption सैमसंग ने इस घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताया है.

ताइवान के अधिकारी उन खबरों की जांच कर रहे हैं जिनमें कहा गया है कि सैमसंग ने अपनी विरोधी कंपनी एचटीसी की आलोचना करने के लिए लोगों की नियुक्ति की और उन्हें पैसे दिए.

दक्षिण कोरियाई कंपनी सैमसंग पर आरोप है कि उसने ताइवान की कंपनी एचटीसी के मोबाइल फ़ोन के बारे में नकारात्मक प्रतिक्रिया देने के लिए छात्रों को नियुक्त किया.

सैमसंग ने कहा है कि यह एक दुर्भाग्यपूर्ण घटना है और यह कंपनी के बुनियादी सिद्धांतो के खिलाफ़ है.

एचटीसी की आलोचना

नकली विज्ञापनों में उलझाने का दोषी पाए जाने पर सैमसंग और उसके स्थानीय प्रतिनिधि पर ढाई करोड़ ताइवानी डॉलर का जुर्माना लगाया जा सकता है.

एक प्रवक्ता ने समाचार एजेंसी एएफ़पी को बताया कि ताइवान के फ़ेयर ट्रेड कमीशन ने कई शिकायतें मिलने के बाद मामले की जांच शुरू की है.

पीसी एडवाइज़र नाम की एक स्थानीय वेबसाइट ने कुछ ऐसे दस्तावेज प्रकाशित किए हैं, जिनमें एचटीसी की आलोचना करने और सैमसंग की प्रशंसा करने के लिए छात्रों को नियुक्त करने की बात की गई है.

सैमसंग ताइवान ने कहा है कि उसे जांच के बारे में नहीं बताया गया था.

कुछ तो हुआ है

हालांकि सैमसंग ताइवान की सहायक कंपनी ने अपने फ़ेसबुक अकाउंट पर लिखा है कि अज्ञात लोगों के नाम से प्रतिक्रिया देने जैसी सभी व्यापारिक गतिविधियां बंद कर दी गई हैं.

कंपनी ने कहा है कि भविष्य में होने वाली व्यापारिक गतिविधियां कंपनी की ईमानदारी और पारदर्शिता के नियमों के मुताबिक़ होंगी.

बयान में कहा गया है,''हाल में हुई घटनाएं दुर्भाग्यपूर्ण हैं.कंपनी के बुनियादी सिद्धांतों की अच्छी समझ न होने की वजह से ऐसा हुआ है.'' कंपनी ने कहा है कि ऐसी घटनाएं दुबारा न हो, इसके लिए वह अपने कर्मचारियों को प्रशिक्षण देगी.

ताइवान के अधिकारियों ने इस साल के शुरू में सैमसंग पर गैलेक्सी वाई डूयो के कैमरे के बारे में उपभोक्ताओं को ग़लत जानकारी देने के लिए जुर्माना लगाया था.