बॉस्टन धमाके: दो संदिग्धों की तस्वीर जारी

Image caption बोस्टन धमाकों के संदिग्ध जिन्होंने बेसबॉल टोपी पहनी है और पीठ पर रकसैक रखा है.

iiअमरीकी जांच एजेंसी एफबीआई ने बॉस्टन धमाकों के मामले में दो संदिग्धों के फोटोग्राफ़ और वीडियो जारी किए हैं जिनकी एजेंसी पहचान करना चाहती है.

सीसीटीवी फुटेज में ये दोनों संदिग्ध नज़र आ रहे हैं. एक ने गहरे रंग की बेसबॉल कैप पहन रखी है जबकि दूसरे ने सफेद रंग की टोपी पहनी है और वे घटनास्थल के नज़दीक नज़र आ रहे हैं.

एफ़बीआई एजेंट रिचर्ड डेसलॉरियर्स ने गुरुवार को बॉस्टन के एक होटल में संवाददाताओं को संबोधित करते हुए कहा, "हमें लगता है कि उन्होंने हथियार रखे थे और काफी ख़तरनाक थे."

जांचकर्ताओं ने मीडिया को बताया कि बॉस्टन धमाकों में इस्तेमाल कम से कम एक बम प्रेशर कुकर से बना था जिसमें विस्फोटक, कांटी, बॉल बियरिंग भरे थे.

उन्होंने बताया कि अपराधियों ने विस्फोटक काले बैग में रखकर जमीन पर छोड़ दिए गए थे.

ओबामा का दौरा

इससे पहले अमरीकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने बॉस्टन जाकर वहां मैराथन के दौरान हुए धमाकों में मारे गए लोगों की याद में रखी गई शोक सभा में हिस्सा लिया.

उन्होंने कहा कि हमले के लिए जिम्मेदार लोगों को बख्शा नहीं जाएगा. ओबामा ने पीड़ितों के परिजनो से कहा है कि हर कोई अपने प्यारे शहर पर हमले से दुखी है.

इससे पहले जांचकर्ताओं ने हमलों के सिलसिले में दो संदिग्धों की पहचान की जिन्हें एक सीसीटीवी फुटेज में काले बैगों के साथ देखा जा सकता है.

गुरुवार को आंतरिक मामलों की मंत्री जैनेट नैपोलितानो ने कहा कि एफबीआई इन लोगों से बात करना चाहती है लेकिन उन्होंने ये नहीं बताया कि ये लोग हैं कहां.

'निडर जीवट'

सोमवार को बॉस्टन मैराथन की फिनिश लाइन के पास हुए दो धमाकों में तीन लोग मारे गए जबकि 170 से ज्यादा घायल हो गए.

Image caption ओबामा ने पीड़ितों के परिजनों से जताई एकजुटता

ओबामा ने कहा कि जो भी इस हमले के पीछे है, उसे बख्शा नहीं जाएगा. तालियों के बीच उन्होंने कहा, “हम तुम्हें ढूंढ लेंगे. हम तुम्हें कानून के कठघरे तक पहुंचाएंगे.”

राष्ट्रपति के बोस्टन दौरे से पहले ही मैसेच्युसेट्स राज्य में आपातस्थिति की घोषणा कर दी गई है जिसके बाद राज्य हमलों की बाद की स्थिति से निपटने में संघीय आर्थिक मदद हासिल कर पाएगा.

राष्ट्रपति ओबामा ने कहा, “इस देश की जीवट निडर है और इसे कोई झुका नहीं सकता है.”

उधर, एफबीआई ने बुधवार को इन खबरों से इनकार किया कि धमाकों के सिलसिले में किसी संदिग्ध को गिरफ्तार किया गया है.

संबंधित समाचार