उत्तर भारत में भूकंप के झटके

  • 1 मई 2013
भूकंप की दहशत
Image caption भूकंप की दहशत के मारे लोग सड़कों पर निकल आए

बुधवार को दोपहर करीब साढ़े बारह बजे दिल्ली और आसपास के इलाकों में भूकंप के तेज़ झटके महसूस किए गए.

भूकंप के झटके कुछ देर तक महसूस किए गए और लोग अपने घरों दफ्तरों से बाहर निकल आए. भूकंप को पूरे उत्तरी भारत में महसूस किया गया.

मौसम विभाग ने बताया कि भूकंप 12 बजकर 27 मिनट पर महसूस किया गया. इसकी तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 5.7 आंकी गई. इसका केन्द्र जम्मू-कश्मीर में स्थित था.

इससे पहले गत मंगलवार यानी अप्रेल 16 को भी साढे़ चार बजे के करीब दिल्ली और आसपास के इलाकों में भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए थे. एक मिनट के अंदर चार-पांच तेज झटके महसूस किए गए थे.

अमरीका के भूगर्भ सर्वेक्षण (यूएसजीएस) के मुताबिक पिछले भूकंप का केंद्र ईरान के पास था. इसकी तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 7.8 आंकी गई थी. इसका केंद्र पाकिस्तान की सीमा के पास खाश शहर से 86 किलोमीटर दूर था.

झटके

भूकंप के झटके खाड़ी और मध्यपूर्व के देशों में भी महसूस किए गए थे.

इससे पहले,10 अप्रैल को ईरान में आए भूकंप में कम से कम 37 लोग मारे गए थे और 850 से ज़्यादा घायल हो गए थे. ये भूकंप 6.3 तीव्रता का था.

बुशेहर स्थित ईरान के एक मात्र परमाणु बिजली घर के संचालकों का कहना था कि भूकंप से संयत्र को कोई नुक़सान नही पहुंचा है.

पाकिस्तान में बीबीसी फ़ारसी सेवा के संवाददाता मोहम्मद वज़ीर के मुताबिक कराची और क्वेटा में भी भूकंप के तेज़ झटके महसूस किए गए थे.

संबंधित समाचार