अमरीका: महिलाओं के वेतन से चलते परिवार

Image caption 1960 में अमरीका में केवल 11 प्रतिशत परिवार महिलाओं के वेतन से चलते थे

एक ताज़ा रिपोर्ट बताती है कि अमरीका में पुरुषों के मुकाबले महिलाएं अपने परिवारों के लिए कमाती हैं.

प्यू रिसर्च सेंटर की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि रिकॉर्ड 40 प्रतिशत महिलाएं अमरीकी घरों को अपनी कमाई से चला रही हैं.

जिन महिलाओं के हाथ में अपने परिवार की आर्थिक बागडोर रहती है, उनमें से 37 प्रतिशत शादी-शुदा हैं और अपने पतियों से ज़्यादा कमाती हैं, जबकि 63 प्रतिशत अविवाहित महिलाएं हैं.

1960 में अमरीका में केवल 11 प्रतिशत परिवार महिलाओं के वेतन से चलते थे.

प्यू रिपोर्ट के मुताबिक अपने पतियों से ज़्यादा कमाने वाली महिलाएं आमतौर पर उम्रदराज़ और पढ़ी-लिखी होती हैं.

रिपोर्ट में कहा गया है कि विवाहित महिलाएं कुंवारी महिलाओं से ज़्यादा कमाती हैं, जबकि अपने परिवार को सहारा देने वाली अविवाहित मांए उम्र में कम, काली या स्पैनिश होती हैं.

बढ़ता प्रभाव

Image caption अमरीका में एक-चौथाई घरों में कुंवारी मांए आर्थिक मामले अपने हाथों में लेती हैं

विवाहित महिलाओं की औसतन आमदनी करीब 80,000 डॉलर पाई गई जबकि अविवाहित मांओ की आमदनी 23,000 डॉलर है.

अमरीका में एक-चौथाई घरों में अविवाहित मांए आर्थिक मामले अपने हाथों में लेती हैं और राष्ट्रीय श्रमिक संख्या का आधा हिस्सा महिलाओं का है.

जनगणना आंकड़ों पर आधारित ये रिपोर्ट कहती है कि महिलाओं में रोज़गार की दर 1968 के 37 प्रतिशत से बढ़ कर 2011 में 65 प्रतिशत हो गई है.

प्यू रिसर्च सेंटर ने कहा कि इस बात का कोई संकेत नहीं है कि इस बढ़ोत्तरी का ताल्लुक आर्थिक मंदी से है या नहीं.

हालांकि रिपोर्ट में ये भी रेखांकित किया गया है कि 2007 में ज़्यादा से ज़्यादा महिलाओं ने फुल-टाइम नौकरी करने की इच्छा ज़ाहिर की थी.

हालांकि कामकाजी महिलाओं से परिवारों को फायदा होता है, रिपोर्ट के मुताबिक एक-चौथाई व्यस्कों का मानना है कि मांओ के काम करने की वजह से बच्चों को संभालना मुश्किल हो जाता है.

लेकिन फिर भी अमरीकियों को ऐसा नहीं लगता कि महिलाओं को केवल घर के काम ही संभालने चाहिए.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार