पाकिस्तान: नवनिर्वाचित सांसदों ने ली शपथ

  • 1 जून 2013

पाकिस्तान में हाल में हुए आम चुनावों में जीत दर्ज करने वाली पाकिस्तान मुस्लिम लीग (एन) सरकार बनाने की तैयारी में है.पाकिस्तान में संसद के निचले सदन यानी नेशनल असेंबली के निर्वाचित सांसदों ने शपथ ले ली है.

पाकिस्तान की नई राष्ट्रीय असेंबली की उद्घाटन बैठक शनिवार को संसद भवन में हुई.

नेशनल असेंबली के अध्यक्ष डा. फहम्मीदा मिर्ज़ा ने उद्घाटन सत्र की अध्यक्षता करते हुए नवविर्वाचित सदस्यों को बधाई दी और उन्हें पद व गोपनीयता की शपथ दिलाई.

हांलाकि उद्घाटन सत्र के लिए सुबह दस बजे का समय निर्धारित किया गया था, लेकिन यह बैठक दो घंटे की देरी से शुरू हुई.

पढ़ें:नवाज़ शरीफ कौन?

कड़े सुरक्षा प्रबंध

नेशनल असेंबली की पहली बैठक के मौके पर राजधानी इस्लामाबाद के संसद परिसर और आस पास के इलाकों को सील कर दिया गया था और सुरक्षा के व्यापक प्रबंध किए गए थे.

पुलिस और रेंजरों की भारी संख्या की तैनाती तो की ही गई थी, हेलिकॉप्टर के ज़रिए इलाके की हवाई निगरानी की जा रही थी.

पाकिस्तान के लोकतांत्रिक इतिहास में यह पहला मौका है जब एक लोकतांत्रिक सरकार दूसरी सरकार को सत्ता सौंप रही है.

इससे पहले, पाकिस्तान के चुनाव आयोग ने नेशनल असेंबली के 333 सदस्यों की अधिसूचना जारी की.

अब नेशनल असेंबली के नए स्पीकर और डिप्टी स्पीकर का चयन तीन जून को गुप्त मतदान से किया जाएगा और उसी दिन सदन के नए नेता के चुनाव के लिए नामांकन दाखिल किए जाएंगे.

देश के नए प्रधानमंत्री का चयन पांच जून को होगा. 342 सदस्यों वाले सदन में नवाज़ शरीफ की पार्टी सबसे बड़े दल के रुप में उभरी है.

नेशनल असेंबली में महिलाओं और अल्पसंख्यकों के लिए विशेष सीटों आवंटन के बाद नवाज़ को साधारण बहुमत हासिल है और पीएमएल( नवाज़) ने नवाज़ शरीफ़ को प्रधानमंत्री पद के लिए नामांकित किया है.

तीसरी बार प्रधानमंत्री

नवाज़ शरीफ़ 13 साल, 8 महीने बाद पाकिस्तान के इतिहास में वह पहले व्यक्ति होंगे जो तीसरी बार प्रधानमंत्री पद संभालेंगे.

इससे पहले शनिवार को इस्लामाबाद हवाई अड्डे पर पत्रकारों से बातचीत करते हुए नवाज़ शरीफ़ ने कहा कि वह पाकिस्तानी लोगों के आभारी हैं जिन्होंने उन्हें एक बार फिर देश सेवा का मौका दिया है.

उधर पंजाब विधानसभा का सत्र उद्घाटन पूर्व स्पीकर राणा मोहम्मद इकबाल की अध्यक्षता में हुआ.

पंजाब विधानसभा के नवनिर्वाचित सदस्यों ने राणा मोहम्मद इकबाल से शपथ ली.पंजाब विधानसभा के नए नेता का चुनाव 6 जून को होगा.

( बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार