पाक राजनयिक से 'मारपीट' पर बवाल

  • 4 जून 2013
Image caption भारत में पाकिस्तान के उच्चायोग ने चिठ्ठी लिखकर इस घटना पर रोष जताया था.

पाकिस्तान के एक राजनयिक के साथ दिल्ली में सोमवार को ‘मारपीट’ के मामले में पाकिस्तान विदेश मंत्रालय ने भारतीय उप-उच्चायुक्त को तलब कर कड़ा ऐतराज़ दर्ज करवाया.

सोमवार को पाकिस्तान के प्रथम सचिव (व्यापार) ज़िरघम रज़ा की गाड़ी दक्षिण दिल्ली में एक मोटरसाइकिल से टकरा गई थी, जिसके बाद दोनो पक्षों के बीच कथित तौर पर बहस और दुर्व्यवहार हुआ था.

पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय की ओर से जारी एक प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार भारतीय राजनयिक से कहा गया कि इस तरह की घटना दोनों देशों के संबंध सुधारने के लिए ठीक नहीं है.

गिरफ़्तारी

इसे पहले मंगलवार को भारतीय विदेश सचिव रंजन मथाई ने पाकिस्तानी विदेश सचिव जलील अब्बास जिलानी को फ़ोन कर इस मामले में खेद जताया था.

मथाई ने जिलानी को यह भी बताया कि इस मामले में एफ़आईआर दर्ज कर ली गई है और दो लोगों को गिरफ़्तार किया गया है.

भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने मंगलवार को कहा, “पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए राजनयिक को लोगों की भीड़ से बाहर निकाला. पुलिस ने पाकिस्तान के राजनयिक को सम्मान सहित एम्स के ट्रॉमा सेंटर में ले गए और प्रारंभिक चिकित्सा दिलवाई जिसके बाद उन्हें घर छोड़ दिया गया.”

भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा कि जिस गाड़ी में पाकिस्तानी राजनयिक जा रहे थे उसकी एक मोटरसाइकिल से “हल्की टक्कर” हो गई जिसमें मोटरसाइकिल सवार और पीछे बैठी महिला को चोटें आई.

(बीबीसी हिन्दी एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार