चरमपंथी हमले से दहला काबुल हवाई अड्डा

  • 10 जून 2013
काबुल हमला
Image caption नेटो की छावनी भी काबुल हवाई अड्डे के पास ही है.

अफ़ग़ानिस्तान की राजधानी काबुल में पुलिस का कहना है कि संदिग्ध चरमपंथियों ने काबुल हवाई अड्डे के पास हमला किया है. वहाँ से धमाकों और फ़ायरिंग की आवाज़ें आ रही हैं.

अभी तक हमले में किसी तरह के जानी-माली नुक़सान की ख़बर नहीं है.

समाचार एजेंसी एएफपी ने पुलिस प्रमुख हशमत स्तानिकज़ई के हवाले से कहा है, "बंदूकों से लड़ाई जारी है और धमाकों की आवाज़ें सुनी जा सकती हैं. मैं आपको कह सकता हूं कि ये एक आत्मघाती हमला है."

काबुल हवाई अड्डा अफ़ग़ानिस्तान में तैनात नेटो फ़ौज की सैनिक छावनी भी है.

एक रिपोर्ट के मुताबिक़ स्थानीय अमरीकी दूतावास में लोगों को सलाह दी गई कि वे सुरक्षित जगहों पर छिपे रहें.

एएफ़पी के मुताबिक़ अमरीकी दूतावास में लाउडस्पीकरों पर ये भी घोषणा हुई कि ये कोई अभ्यास की ड्रिल नहीं है.

बीबीसी संवाददाता बिलाल सरवरी का कहना है कि हमलावरों के पास रॉकेट से मारने वाले ग्रेनेड और भारी मशीन गन हैं.

काबुल पुलिस के एक प्रवक्ता का कहना है कि हमला भोर में हुआ. उनका कहना था कि चरमपंथियों ने हवाई अड्डे के पास की एक पांच मंज़िला भवन से हमला शुरू कर दिया.

ये मकान फ़िलहाल निर्माणाधीन है.

अफ़गान सुरक्षा बल के प्रमुख जनरल दाऊद अमीन ने कहा है कि पूरी तैयारी से आए हमलावरों और सुरक्षा बलों में लड़ाई जारी है.

(बीबीसी हिन्दी के क्लिक करें एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहाँ क्लिक करें. आप हमें क्लिक करें फ़ेसबुक और क्लिक करें ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)