कर चोरी के लिए मैसी की जांच

स्पेन सरकार मशहूर फ़ुटबॉल खिलाड़ी लियोनेल मैसी और उनके पिता द्वारा चालीस लाख यूरो से अधिक की कर चोरी की जांच कर रही है.

अधिकारियों के अनुसार अर्जेनटीना टीम के इस 25 वर्षीय फारवर्ड खिलाड़ी और उनके पिता जोर्ज होराशियो पर वर्ष 2007-2009 में गलत कर विवरण भरने का संदेह है.

चार बार फीफा के सर्वेश्रेष्ठ फ़ुटबॉल खिलाड़ी रह चुके मैसी ने अभी तक इस मामले में कोई बयान नहीं दिया है.

माना जाता है कि बार्सिलोना क्लब से उन्हें वेतन के रूप में कुल एक करोड़ साठ लाख यूरो मिलते हैं जिसकी वजह से मैसी की गिनती दुनिया के सबसे धनी खिलाड़ियों में होती है.

बुधवार को सरकारी वकील रैक्वेल आमादो के हस्ताक्षर युक्त शिकायत याचिका गावा की अदालत में प्रस्तुत की गई. गावा बार्सिलोना के सर्वाधिक धनी इलाकों में एक है. मैसी इसी इलाके में रहते हैं.

रिर्पोट के अनुसार इस याचिका के अदालत द्वारा स्वीकार किए जाने के बाद ही संदिग्ध के ऊपर अभियोग लगाया जा सकता है.

मैसी और उनके पिता के ऊपर संदेह है कि उन्होंने मैसी की तस्वीरों के प्रयोग का अधिकार बेचने के लिए बेलीज़ और उरुग्वे स्थित कंपनियों का प्रयोग किया.

उन पर आरोप है कि स्पेन से बाहर स्थित कंपनियों का प्रयोग कर मैसी और उनके पिता ने स्पेन को चालीस लाख यूरो कर नहीं चुकाया. मैसी स्पेन में रहते हैं और स्पेन में ही क्लब फ़ुटबॉल खेलते हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहाँ क्लिक कर सकतें हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार