मंत्री की तुलना 'वनमानुष' से करने पर बवाल

kyenge
Image caption क्येंगे को अप्रैल में मंत्री बनने के बाद से ही नस्लवादी हमलों का सामना करना पड़ रहा है.

अफ्रीकी मूल की इटली की पहली काली महिला मंत्री की तुलना वनमानुष से करने वाले एक सांसद को कड़ी आलोचना का सामना करना पड़ रहा है.

देश में आप्रवासन का विरोध करने वाले नॉर्दन लीग के नेता रॉबर्टो काल्देरोली ने एक रैली में कहा था कि एकीकरण मंत्री सेसिली क्येंगे को देखकर उन्हें वनमानुष की याद आती है.

काल्देरोली ने कहा कि क्येंगे को मंत्री बनाए जाने से इटली में अवैध रूप से आने वाले लोगों को बढ़ावा मिलेगा.

क्येंगे कांगो मूल की हैं और पेशे से डॉक्टर हैं. वो 1983 से इटली में रह रही हैं. इटली में नस्लवाद को लेकर उठे कई विवादों में ये सबसे ताज़ा है.

सोशल मीडिया पर आलोचना

काल्देरोली ने शनिवार को उत्तरी शहर ट्रेविसो में एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा, “सब लोग जानते हैं कि मुझे भालू और भेड़िये जैसे जानवरों से प्यार है लेकिन जब मैं क्येंगे की तस्वीर देखता हूं, तो मुझे वनमानुष की याद आती है.”

उन्होंने साथ ही कहा कि क्येंगे को अपने देश में मंत्री होना चाहिए, जहां उनका जन्म हुआ है.

काल्देरोली के बयान की सोशल मीडिया पर कड़ी आलोचना हो रही है और राजनेताओं ने भी उन्हें आड़े हाथों लिया है.

प्रधानमंत्री एनरिको लेट्टा ने कहा कि काल्देरोली ने सारी हदें पार कर दी हैं और वो पूरी तरह सेसिली के साथ हैं.

माफ़ी मांगी

काल्देरोली ने पहले तो इस मुद्दे पर चतुराई भरा जवाब देते हुए कहा कि उनका बयान आप्रवासन पर एक व्यापक बहस का हिस्सा है.

लेकिन रविवार शाम को उन्होंने इतालवी समाचार एजेंसी अंसा से कहा कि उन्होंने खुद क्येंगे को फ़ोन करके माफ़ी मांग ली है.

यूरोपीय संसद में नॉर्दन लीग के एक सदस्य ने कहा था कि क्येंगे इटली में कबायली संस्कृति थोपना चाहती हैं. उन्हें भी पार्टी से निकाल दिया गया था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें . आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार