इटली बस दुर्घटनाः 38 की मौत, 10 घायल

इटली

इटली में एक बस दुर्घटना में 38 लोगों मारे गए हैं. खबरों के अनुसार फ्लाईओवर से बस के गिरकर दुर्घटनाग्रस्त होने की यह घटना दक्षिणी इटली में हुई. इसे इस दशक का सबसे भयंकर सड़क हादसा माना जा रहा है.

यह बस पहले अवरोधकों को तोड़ती हुई फ्लाईओवर से कई फीट नीचे सड़क पर जा रहे वाहनों पर गिरी. फिर कैमपेनिया इलाके के एवेलिनो शहर के नजदीक खड़ी ढलान से लुढकती हुई नीचे चली गई.

इस सड़क दुर्घटना में 10 लोग घायल हुए हैं. इनमें से कुछ घायलों की हालत गंभीर बताई जा रही है.

बच्चों सहित बस में करीब 50 लोग सवार थे. यह बस तीर्थयात्रा के बाद वापस नेपल्स लौट रही थी.

रफ्तार बहुत ज्यादा

दुर्घटना के कारणों का अब तक कोई सुराग नहीं मिला है. कुछ रिपोर्ट बताते हैं कि बस की रफ्तार काफी तेज थी.

स्थानीय फायर ब्रिगेड के विभागीय प्रमुख अलेसिओ बारबारुलो ने बताया, "पुलों के किनारे बने अवरोधक इस तरह की दुर्घटनाओं को रोक रखने की क्षमता रखते हैं. लेकिन इस मामले में जाहिर है कि रफ्तार इतनी तेज थी कि अवरोधक भी कमजोर पड़ गया.”

दुर्घटना में बच निकले एक व्यक्ति ने बताया कि टायर के पंक्चर होने से ड्राइवर, जिसकी मौत हो चुकी है, बस पर अपना नियंत्रण खो चुका था.

Image caption यह बस तीर्थयात्रा के बाद नेपल्स वापस लौट रही थी.

परिवहन मंत्री मौरिजिओ लूपी ने बताया कि मार्च में इस बस की सालाना जांच की गई थी. तब इसमें किसी तरह की तकनीकी खामी नहीं दिखाई दी थी.

दुर्घटना के कारणों की पड़ताल करने के लिए ड्राइवर के मृत शरीर की जांच की जा रही है.

टीवी पर फुटेज में फ्लाईओवर से गिर कर चूर चूर हो चुकी बस और सड़क किनारे कफन में लिपटी लाशों की कतार दिखाई जा रही है.

इस दुर्घटना के बाद नेपल्स-बरी मोटर मार्ग को फिलहाल यातायात के लिए बंद कर दिया गया है.

अंतिम संख्या अब तक स्पष्ट नहीं

Image caption रिपोर्ट के अनुसार गाड़ी की रफ्तार काफी तेज थी.

दुर्घटना से प्रभावित होने वालों की अंतिम संख्या अब तक स्पष्ट नहीं हुई है. स्थानीय अधिकारियों के अनुसार 38 लोगों की मौत हुई है जबकि रोम के परिवहन मंत्रालय के अनुसार मृतकों की संख्या 39 है.

एएनएसए समाचार एजेंसी ने कहा है कि घायलों को एवेलिनो, सलेरनो और नोला के अस्पतालों में भर्ती किया गया है.

घायलों में दुर्घटना की चपेट में आए छह कार में सवार लोग भी शामिल हैं. घायल बच्चों की संख्या छह है.

ग्रीस की यात्रा पर निकले इटली के प्रधानमंत्री एनरिको लेट्टा ने इसे एक बड़ी दुखद घटना बताया है.

आज से ठीक 10 साल पहले, इसी तरह की एक और दुर्घटना में छह लोगों की मौत और 11 अन्य घायल हुए थे.

(बीबीसी हिंदी का एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें. ख़बरें पढ़ने और अपनी राय देने के लिए हमारे फ़ेसबुक पन्ने पर भी आ सकते हैं और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

संबंधित समाचार