चीन में भीषण गर्मी, अलर्ट जारी

  • 1 अगस्त 2013
Image caption शंघाई में गर्मी से कम से कम 10 लोग मारे गए हैं.

चीन के कई हिस्सों में गर्मी रिकार्ड स्तर पर जा पहुँची है. इस कारण पहली बार देश भर में आपातकालीन स्तर के दो हीट-अलर्ट जारी किए गए हैं.

शंघाई में गर्मी से कम से कम 10 लोग मारे गए हैं. खबरों के मुताबिक शंघाई में जुलाई का महीना पिछले 140 साल के दौरान सबसे गर्म रहा है.

स्थानीय पत्रकारों ने फुटपाथ पर मीट पकाकर गर्मी का अहसास कराया है.

देशव्यापी हीट अलर्ट में एन्हुई, जियांगसु, हुनान, हुबेई, शंघाई और चोंगक्विंग सहित नौ प्रांत शामिल हैं.

शंघाई मौसम ब्यूरो के आंकड़ों के मुताबिक शंघाई में जुलाई के दौरान 24 दिन ऐसे थे जब तापमान 35 डिग्री सेल्सियस या उससे अधिक रिकॉर्ड किया गया.

ब्यूरो के मुख्य सेवा अधिकारी वू रुई ने बताया, “यह नया रिकार्ड होना चाहिए.”

टूटे पुराने रिकार्ड

Image caption एलर्ट में आमलोगों से दिन में बाहर निकलने से परहेज करने के लिए कहा गया है.

उन्होंने कहा, “साथ ही इस साल जुलाई में शंघाई का तापमान 40.6 डिग्री सेल्सियस हो गया, जो आज तक का सबसे अधिक तापमान है. इस तरह जुलाई में अधिकतम तापमान ने एक रिकार्ड तोड़ दिया है.”

सरकारी समाचार एजेंसी शिन्हुआ ने स्वास्थ्य अधिकारियों के हवाले से बताया कि शंघाई में गर्मी लगने से 10 से अधिक लोग मारे गए हैं.

एक टीवी रिपोर्ट में शंघाई टीवी के एक पत्रकार ने कहा कि उन्होंने फुटपाथ पर एक संगमरमर के पत्थर पर केवल 10 मिनट में सुअर का मांस कामयाबी के साथ पकाया.

इंटरनेट पर इसी तरह सुअर का मांस और मछली पकाने के कई चित्र अपलोड किए गए हैं.

हीट एलर्ट

Image caption गर्मी से बचने के लिए लोग पानी का सहारा ले रहे हैं.

चीन के मौसम विभाग ने मंगलवार को दूसरे स्तर का आपातकालीन हीट अलर्ट जारी किया है.

विभाग की बेवसाइट के मुताबिक अलर्ट में कहा गया है कि, “एन्हुई, जियांगसु, हुनान, हुबेई, गुआंग्डोंग, यांग्शी, फुजि़यान, शंघाई और चोंगक्विंग मौसम ब्यूरो को वास्तविक मौसम दशाओं के आधार पर आपातकालीन कदम उठाने चाहिए.”

इसमें कहा गया है कि मौसम के पूर्वानुमान बताते हैं कि चोंगक्विंग सहित यांग्त्ज़ी नदी के दक्षिण में कुछ इलाके 8 अगस्त तक 35 डिग्री सेल्सियस तक तापमान का अनुभव कर सकते हैं.

अलर्ट में आम लोगों से बाहरी कामकाज से परहेज करने और गर्मी से बचने के उपाए करने के लिए कहा गया है.

रॉयटर्स समाचार एजेंसी को एक स्थानीय निवासी ने बताया, “एयर कंडीशनर के बगैर रहना असंभव है. बाहर निकलने पर ऐसी गर्मी किसी को भी भून सकती है.”

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार