2012 के बाद फ़ेसबुक के शेयर पहली बार चढ़े

2012 में बाज़ार में आने के बाद पहली बार फ़ेसबुक के शेयर उस के बुनियादी मूल्य 38 डॉलर से ऊपर चढ़े हैं.

दुनिया की सबसे बड़ी सोशल नेटवर्किंग साइट के शेयर सुबह के व्यापार के बाद 1.2 फ़ीसदी बढ़ कर 38.08 डॉलर प्रति शेयर के दाम पर बिके.

अब बाज़ार में इस कंपनी की कीमत 92 अरब डॉलर आंकी जा रही है.

24 जुलाई के बाद जब से कंपनी ने आशा से अधिक आमदनी का ऐलान किया हैं, कंपनी के शेयरों की कीमत बढ़ती जा रही है.

फ़ेसबुक की मोबाइल विज्ञापन आय में वृद्धि के बाद निवेषकों का मनोबल बढ़ा है. फ़ेसबुक की कुल विज्ञापन आमदनी का 41 फ़ीसदी मोबाइल से आ रहा है.

अच्छी नहीं थी शुरुआत

वर्ष 2012 में जब फ़ेस बुक के शेयरों की बिक्री शुरू हुई थी जो उसकी शुरुआत अच्छी नहीं थी क्यों कि उसके शेयर धारक कंपनी की मोबाइल रणनीति न होने और आमदनी की रफ़्तार कम होने के कारण डरे हुए थे.

कुछ लोगों ने कंपनी के संस्थापक मार्क ज़करबर्ग पर आरोप लगाया था कि वो कंपनी के विकास अनुमानों को बढ़ा चढ़ा कर पेश कर रहे हैं.

बाज़ार में उतरने के तीन महीनों के अंदर शेयर मूल्य घट कर 18 डॉलर पहुँच गए थे जिसकी वजह से कंपनी का स्टाक बाज़ार मूल्य भी घट कर 48 अरब डॉलर रह गय़ा था.

लेकिन कंपनी के हालिया परिणामों से निवेषकों का विश्वास बहाल करने में मदद मिली है.

(क्या आपने बीबीसी हिन्दी का नया एंड्रॉएड मोबाइल ऐप देखा? डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें. आप ख़बरें पढ़ने और अपनी राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने पर भी आ सकते हैं और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार