चीन: 'बो शिलाई पर नहीं होगी कोई नरमी'

चीनी अभियोजकों का कहना है कि देश के पूर्व राजनेता बो शिलाई पर कोई नरमी नहीं बरती जाएगी.

शिलाई पर चल रहा मुकदमा अंतिम दौर में है और अभियोजन तथा बचाव पक्ष ने अपने-अपने बयान जारी किए हैं.

अभियोजन पक्ष ने कहा कि शिलाई का अपराध गंभीर है और उन्होंने कोई पछतावा व्यक्त नहीं किया है. इसलिए उन पर कोई नरमी नहीं बरती जाएगी.

चोंगकिंग में कम्युनिस्ट पार्टी के पू्र्व प्रमुख शिलाई पर घूसखोरी, भ्रष्टाचार और सत्ता के दुरुपयोग का आरोप है जिससे वह इनकार करते आए हैं.

अपडेट

इससे पहले रविवार को शिलाई अपने पूर्व पुलिस प्रमुख वांग लिजुन पर जमकर बरसे.

लिजुन फरवरी 2012 में अमरीकी वाणिज्य दूतावास में गए थे जिसके बाद ब्रिटेन के उद्योगपति नील हेवुड की मौत की जांच नए सिरे से शुरु की गई थी. शिलाई की पत्नी को हेवुड की हत्या के जुर्म में सजा सुनाई जा चुकी है.

विदेशी मीडिया को इस मुकदमे से अलग रखा गया है लेकिन पूर्वी शहर जिनान की अदालत देश की माइक्रोब्लॉगिंग साइट वीबो पर लगातार अपडेट जारी कर रही है.

यह हाल के दशकों में चीन का सबसे हाई प्रोफाइल मामला है.

शिलाई में काफी संभावनाएं देखी जा रही थी लेकिन इस मामले में फंसने के बाद उनके राजनीतिक जीवन पर ग्रहण लग गया है. माना जा रहा है कि वह इन आरोपों में दोषी पाए जाएंगे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार