जहाँ दूधवालों को गाड़ी चलाने की इजाज़त नहीं

  • 6 सितंबर 2013
कतर का दोहा शहर

मध्यपूर्व के देश क़तर में दूधवालों और किसानों को गाड़ी चलाने की इजाज़त नहीं है.

एक अख़बार में कहा गया है कि क़तर के ट्रैफ़िक विभाग ने हाल ही में एक सूची जारी की है जिसमें 162 पेशों से जुड़े लोगों को ड्राइविंग लाइसेंस के लिए आवेदन करने पर रोक लगाई गई है.

क़तर के अख़बार गल्फ़ टाइम्स के मुताबिक़ दूधवालों और किसानों का पेशा भी इस सूची में शामिल है.

इतना ही नहीं इस सूची में कम आमदनी वाले और भी पेशे शामिल किए गए हैं जैसे कि क़साई, बावर्ची, घरेलू नौकर, वेल्डर, किराना दुकानदार आदि.

अख़बार कहता है कि इस सरकारी आदेश के बाद ड्राइविंग लाइसेंस के आवेदनों की संख्या में बढ़ोतरी हो सकती है क्योंकि इससे पहले लोगों की छँटनी के लिए अधिक व्यापक पेशे की श्रेणियाँ रखी गई थीं.

सड़क दुर्घटनाएँ

Image caption सड़क दुर्घटनाएँ विश्व स्तर चिंता का एक विषय है.

इस अंग्रेज़ी अख़बार ने क़तर के एक ड्राइविंग स्कूल के सूत्रों के हवाले से कहा है वे ड्राइविंग लाइसेंस के आवेदनों को आवेदक के व्यवसाय की जाँच के बाद ही स्वीकार करते हैं.

व्यवसाय की जाँच के लिए आवेदक की राष्ट्रीय पहचान पत्र को सुबूत के तौर पर लिया जाता है.

तमाम रोकथाम के बावजूद क़तर में होने वाली मौतों के 18 फ़ीसदी मामले सड़क दुर्घटनाओं से जुड़े होते हैं.

नॉर्थवेस्टर्न यूनिवर्सिटी के आँकड़ों के मुताबिक़ अमरीका में ये आँकड़ा डेढ़ फ़ीसदी ही है.

इन हादसों में मारे जाने वाले ज्यादातर लोग बाहर से आने वाले होते हैं.

क़तर में विदेशी नागरिक गाड़ी चलाने के लिए अंतरराष्ट्रीय परमिट का इस्तेमाल कर सकते हैं.

(बीबीसी मॉनिटरिंग दुनिया भर के टीवी, रेडियो, वेब और प्रिंट माध्यमों में प्रकाशित होने वाली ख़बरों पर रिपोर्टिंग और विश्लेषण करता है. आप बीबीसी मॉनिटरिंग की खबरें ट्विटर और फ़ेसबुक पर भी पढ़ सकते हैं.)

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार