क़ुरान जलाने की तैयारी पर अमरीकी पादरी गिरफ्तार

अमरीका के फ्लोरिडा में पुलिस ने उस पादरी को गिरफ्तार कर लिया है जिन्होंने 9/11 की बरसी पर क़ुरान की प्रतियां जलाने की तैयारी कर रखी थी.

पुलिस ने 61 साल के टेरी जोंस को तब गिरफ्तार किया जब वो एक वाहन में मांस को भूनने वाला चुल्हा और मिट्टी तेल में भिगोई हुई पवित्र क़ुरान की प्रतियां लेकर जा रहे थे.

उन्होंने दावा किया था कि वो 9/11 हमले के पीड़ितों की याद में क़ुरान की 2,998 प्रतियों को तांपा बे पार्क में जलाएंगे.

विवादास्पद

विवादास्पद पादरी टेरी जोंस ने इससे पहले भी क़ुरान की प्रतियों को जलाने की घोषणा की थी. इसके बाद उनकी चौतरफा आलोचना हुई थी.

साल 2011 में फ्लोरिडा के गेंसविले स्थित डोव वर्ल्ड आउटरीच सेंटर पर उनके अनुयायियों ने कुरान की प्रतियां जलाई थीं, जिसके बाद मध्यपूर्व और अफगानिस्तान में बड़े पैमाने पर हिंसात्मक प्रदर्शन हुए थे.

टेरी जोंस और उनके सहयोगी मर्विन साप्प जूनियर को बुधवार को मलबेरी कस्बे जाते हुए गिरफ्तार किया गया.

मिट्टी तेल

वो वाहन में अपने साथ मिट्टी तेल की ढेर सारी बोतलें भी लेकर जा रहे थे.

पुलिस ने कहा है कि दोनों पर गैरकानूनी तरीके से ईंधन ले जाने का केस दाखिल किय गया है. जोंस पर सार्वजनिक रूप से हथियार रखने का भी मामला दर्ज किया गया है.

टेरी जोंस ने अपनी वेबसाइट पर क़ुरान जलाने की योजना की घोषणा कर रखी थी.

पोल्क काउंटी के शेरिफ़ ग्रैडी जूड ने कहा कि उनके जांच अधिकारियों ने जोंस को पहले ही चेतावनी दे दी थी कि उनकी योजना गैरक़ानूनी है.

जूड ने कहा, ''हमने कहा था कि बोलने की आजादी के प्रथम संशोधन के तहत उन्हें अपने विचार रखने की आज़ादी है लेकिन उन्हें क़ानून का उल्लंघन करने का कोई हक़ नहीं.''

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

संबंधित समाचार