अब ट्विटर भी उतरेगा शेयर बाज़ार में

ट्विटर ने घोषणा की है कि उसने शेयर बाजार से पूंजी जुटाने के लिए अमरीकी नियामक के पास आवेदन किया है.

कंपनी ने अपने आधिकारिक फीड पर ट्वीट किया है, "हमने गोपनीय रूप से सेक के पास आईपीओ योजना के लिए एस-1 दाखिल किया है."

अमरीकी प्रतिभूति और विनिमय आयोग को संक्षेप में सेक कहते हैं और सेक में शेयरों को सूचीबद्ध करने के लिए कंपनियों को फार्म एस-1 भरना ज़रूरी होता है.

पिछले साल फेसबुक के आरंभिक सार्वजनिक पेशकश (आईपीओ) को मिले जोरदार समर्थन के बाद इस बात की उम्मीद काफी बढ़ गई थी कि ट्विटर भी जल्द ही ऐसी ही पेशकश करेगा.

हालांकि अभी इस बात की पुष्टि नहीं हुई है कि आईपीओ की पेशकश कब की जाएगी.

तेज़ होगी विस्तार योजना

सोशल नेटवर्किंग साइट ट्विटर के दुनिया भर में 20 करोड़ से अधिक ग्राहक हैं.

विज्ञापन सलाहकार फर्म ई-मार्केटर के मुताबिक निजी निवेशकों ने इसकी कुल कीमत दस अरब अमरीकी डॉलर से अधिक आंकी है.

ट्विटर ने मंगलवार को मोबाइल आधारित विज्ञापन विनिमय कंपनी मोपब के अधिग्रहण की घोषणा की थी. यह अधिग्रहण 35 करोड़ अमरीकी डालर में किया गया.

माना जा रहा है कि इस आईपीओ से कंपनी के निवेशकों को अपने निवेश का एक हिस्सा अच्छे-खासे मुनाफे के साथ वापस मिल सकेगा.

सोशल मीडिया विशेषज्ञ एंड्रयू फ्रैंक ने बताया कि, "इससे ट्विटर को नई परियोजनाओं और इनोवेशन के लिए अतिरिक्त फंड मिलेगा."

इससे पहले फेसबुक और लिंक्ड इन जैसी सोशल मीडिया साइट शेयर बाजार में सूचीबद्ध हो चुकी हैं.

न्यूयॉर्क स्थित तकनीकी विशेषज्ञ कोलिन गिल्स ने बताया कि जब तक कंपनी यह नहीं बताती है कि शेयरों की पेशकश किस कीमत पर की जाएगी तब तक यह कहना मुश्किल है कि ट्विटर के शेयरों की मांग कितनी रहेगी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार