मैक्सिको में चक्रवाती तूफान, 19 की मौत

तूफ़ान के बाद का दृश्य
Image caption तूफ़ान की वजह से दो दिन तक मूसलाधार बारिश हुई

मैक्सिको में आए दो शक्तिशाली तूफानों में कम से कम 19 लोग मारे गए हैं.

इनग्रिड नाम के चक्रवाती तूफ़ान की वजह से आई बाढ़ को देखते हुए हज़ारों लोगों को मैक्सिको की खाड़ी के तट पर स्थित राहत शिविरों में भेजा गया है. इस तूफ़ान के सोमवार तक समुद्र से निकलकर जमीन पर आ जाने का अनुमान है.

प्रशांत तट पर उष्णकटिबंधीय तूफ़ान की वजह से दो दिन तक मूसलाधार बारिश हुई. इससे भारी नुकसान पहुंचा है. अकापुल्को का समुद्री इलाका बुरी तरह प्रभावित हुआ है.

मौसम को देखते हुए मैक्सिको के कई शहरों में स्वतंत्रता दिवस समारोहों को रद्द कर दिया गया है.

तूफान की वजह से हजारों लोगों को अपना घर-बार छोड़ने के लिए मजबूर होना पड़ा है.

राहत और बचाव कार्य

इनग्रिड नाम के इस चक्रवाती तूफान से पहले छह हजार से अधिक लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुँचाया गया.

120 किलोमीटर प्रति घंटे के रफ्तार से चलीं हवाओं की वजह से वेराक्रूज और तमौलीपास राज्य में व्यापक नुक़ान हुआ है.

इस तूफान ने प्रशांत महासागर के पश्चिमी तट को छुआ, इससे एक महीने में होने वाली बारिश से करीब दो गुनी बारिश केवल तीन दिन में ही हो गई.

Image caption पिछले हफ़्ते हुए भूस्खलन में 13 लोगों की मौत हो गई थी

इससे ओक्साका और ग्युरेरो प्रांत बुरी तरह प्रभावित हुए हैं और कुछ सड़कों और दूरसंचार संपर्क टूट गया है.

एक अलग तरह के तूफान की वजह से चिहुआहुआ राज्य के सियुदाद जुआरेज शहर को भी नुक़सान पहुँचा है. इससे सड़कों पर बाढ़ आ गई है.

मैक्सिको सिटी में मौजूद बीबीसी संवाददाता विल ग्रांट का कहना है कि चक्रवाती तूफ़ान इनग्रिड तूफ़ानों के मौसम का दूसरा बड़ा तूफ़ान है और यह मैक्सिकों की खाड़ी में और मजबूत हो रहा है.

प्रभावित इलाकों से निकाले गए लोगों को आधिकारिक राहत शिविरों में रखा गया है. इनमें से अधिकांश ने अपने मित्रों और परिवार के साथ रहने की मांग की है.

इनग्रिड तूफ़ान से पूर्वी मैक्सिको के अधिकांश इलाकों में 25 सेमी से 63 सेमी तक बारिश होने की आशंका है. इससे नदियों में बाढ़ आने की आशंका है.

तमौलीपास तट के तेल उत्खनन के तीन प्लेटफार्म को खाली करा लिया गया है.

अभी पिछले हफ्ते ही वेराक्रूज में भारी बारिश की वजह से हुए भूस्खलन में 13 लोगों की मौत हो गई थी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार