'पत्नी के डर' से ओबामा ने छोड़ी सिगरेट

संयुक्त राष्ट्र की बैठक
Image caption अमरीकी राष्ट्रपति बराक ओबामा और माइना किआई (बाएं से दूसरे) ने सोमवार को एक बैठक में हिस्सा लिया.

दुनिया के सबसे 'ताक़तवर' व्यक्ति भी अपनी पत्नी से डरते हैं और ये बात उन्होंने ख़ुद कबूल की है.

अमरीकी राष्ट्रपति बराक ओबामा का कहना है कि उनकी धूम्रपान करने की पुरानी आदत छूटने की वजह थी उनकी पत्नी मिशेल ओबामा का डर. हालांकि बात मज़ाक में कही गई थी.

ये राज़ ओबामा ने सोमवार को न्यू यॉर्क में संयुक्त राष्ट्र महासभा के दौरान संगठन के एक अधिकारी से बातचीत में खोला. लेकिन जब उन्होंने ये बात कही तब ओबामा को पता नहीं था कि वे कैमरा पर हैं.

दरअसल अमरीकी राष्ट्रपति एक मानवाधिकार कार्यकर्ता से निजी बातचीत कर रहे थे जिसमें उन्होंने बताया कि उन्होंने छह साल से सिगरेट नहीं पी है.

ओबामा ने मुस्कुराते हुए कहा, "वो इसलिए क्योंकि मैं अपनी पत्नी से डरता हूं."

प्रसारण

बराक ओबामा और संयुक्त राष्ट्र अधिकारी माइना किआई के बीच ये बातचीत एक खुले माइक्रोफ़ोन के नज़दीक हो रही थी और इस वार्तालाप को बाद में अमरीकी टीवी चैनल सीएनएन पर प्रसारित कर दिया गया.

माइना किआई कीनियाई मूल के हैं और वे शांतिपूर्वक इकट्ठा होने और संगठन की स्वतंत्रता के मुद्दे पर संयुक्त राष्ट्र के विशेष दूत हैं.

किआई और बराक ओबामा ने हावर्ड लॉ स्कूल में एक साथ पढ़ाई की थी.

इसी बातचीत में ओबामा ने किआई से पूछा, "मुझे उम्मीद है कि आपने अब धूम्रपान करना छोड़ दिया होगा."

जवाब में माइना किआई ने कहा, "कभी-कभी," और दोंनो ने मुस्कुरा कर हाथ मिलाए.

बराक ओबामा ने सार्वजनिक तौर पर ये बात कबूल की है कि उन्हें धूम्रपान की आदत छोड़ने के लिए काफ़ी जद्दोजहद करनी पड़ी. साल 2011 में ओबामा की पत्नी मिशेल ओबामा ने बताया था कि उनके पति अपनी आदत से निजात पा चुके हैं.

(बीबीसी हिंदी का एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें. आप ख़बरें पढ़ने और अपनी राय देने के लिए हमारे फ़ेसबुक पन्ने पर भी आ सकते हैं और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार