चीन में भ्रष्टाचार के आरोप में मेयर बर्खास्त

Image caption जी जिआनये पर आर्थिक भ्रष्टाचार के आरोप हैं.

चीन के पूर्वी शहर नानजिंग के मेयर को भ्रष्टाचार के एक मामले में पद से बर्खास्त कर दिया गया है.

सरकारी समाचार एजेंसी शिन्हुआ ने बताया कि जी जिआन्ये को "संदिग्ध गंभीर अनुशासनात्मक अपराध" के लिए उनके नेतृत्व की ज़िम्मेदारी से हटा दिया गया है.

इस घोषणा से दो दिन पहले सत्ताधारी पार्टी की भ्रष्टाचार निरोधक इकाई ने बताया था कि जी जिआन्ये की जांच चल रही है.

चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग के बीते साल नवंबर में पद ग्रहण करने के साथ ही भ्रष्टाचार उन्मूलन अभियान की शुरूआत की गई थी.

उन्होंने चेतावनी दी थी कि भ्रष्टाचार को लेकर जनता के गुस्से से कम्युनिस्ट पार्टी के अस्तित्व को चुनौती मिल रही है और उन्होंने सत्ता के शीर्ष से लेकर निचले स्तर तक भ्रष्टाचार को काबू में करने का वादा किया था.

रसूखदारों पर नकेल

संवाददाता के मुताबिक जी जिआन्ये अब तक इस अभियान का शिकार बने सबसे प्रमुख व्यक्तियों में एक हैं.

हालांकि उन पर मुकदमे का कोई ब्यौरा नहीं बताया गया है, लेकिन सरकारी समाचार पत्र 21वीं सदी का बिजनेस हेराल्ड का कहना है कि आर्थिक भ्रष्टाचार और निर्माण परियोजनाओं को लेकर जी से पूछताछ की जा रही है.

कम्युनिस्ट पार्टी के मुखपत्र पीपुल्स डेली की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि जी के मामले में लगभग 33 करोड़ डॉलर की राशि शामिल हो सकती है.

चीन में बीते महीनों के दौरान कई रुतबेदार अधिकारियों को बर्खास्त किया जा चुका है.

इसमें पूर्व रेल मंत्री और एक प्रमुख आर्थिक योजनाकार शामिल हैं.

नानजिंग जियांग्सु प्रांत की राजधानी है और यहां की आबादी करीब 70 लाख है.

शिन्हुआ के मुताबिक जी जिआन्ये जनवरी 2010 से नानजिंग के मेयर थे और वह शहर में पार्टी के उपसचिव भी रह चुके हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार