अमरीकी बैंक पर 80 हज़ार करोड़ रुपए का जुर्माना

  • 20 अक्तूबर 2013
जेपी मॉर्गन
Image caption साल 2007 में अमरीका के बैंकिंग तंत्र के ध्वस्त होने में जेपी मॉर्गन की भूमिका पर भी सवाल खड़े होते हैं.

अमरीका में बैंकिंग क्षेत्र की दिग्गज कंपनी जेपी मॉर्गन पर रिकॉर्ड स्तर पर लगभग 80 हज़ार करोड़ (13 अरब डॉलर) का जुर्माना लगा है.

अमरीकी मीडिया में आई ख़बरों के मुताबिक़ गिरवी के आधार वाली प्रतिभूतियों के मामले की जांच के बाद जेपी मॉर्गन पर जुर्माना लगाया गया है.

अमरीकी न्याय विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों के बीच हुई बातचीत के बाद इस पर सहमति बनी.

कंपनी पर ज्यादा मूल्य वाली गिरवी आधारित प्रतिभूतियों की बिक्री का आरोप लगा था जिसके चलते ऐसा माना जाता है कि वर्ष 2007 में बैंकिंग तंत्र पूरी तरह से ध्वस्त होने की कगार पर पहुंच गया.

पिछले महीने, 'लंदन व्हेल' घोटाला मामले में जेपी मॉर्गन पर क़रीब 61 अरब रुपये का जुर्माना लगा था.

पूर्व बैंक कर्मचारी ब्रूनो इकसिल ने वित्त बाजार पर बड़ा दांव लगाते हुए ऐसी ख़रीद-फ़रोख़्त की जिससे ऐसे घोटाले की स्थिति बन गई.

जोखिमपूर्ण संपत्ति

वॉलस्ट्रीट जर्नल ने इस फैसले से अवगत अधिकारियों का हवाला देते हुए कहा कि जेपी मॉर्गन को जुर्माने की यह भारी रकम चुकानी होगी.

शुक्रवार को जेपी मॉर्गन के वकीलों और अमरीका के अटॉर्नी जनरल एरिक होल्डर तथा उनके सहयोगी टोनी वेस्ट के बीच हुई बातचीत के बाद न्याय विभाग ने ऐसा फ़ैसला किया.

Image caption अमरीका में 2007 में आर्थिक संकट का कहर महसूस होने लगा था

न्यूयॉर्क टाइम्स ने भी यह ख़बर दी है कि यह निवेश बैंक भी इस पर लगभग सहमति देने के कगार पर पहुंच रहा था लेकिन इसके अंतिम ब्योरे पर अब भी चर्चा की जा रही है.

इस पर न्याय विभाग और न ही बैंक ने कोई टिप्पणी की है.

अगर इस बात की पुष्टि हो जाती है तो यह किसी अमरीकी कंपनी द्वारा सेटेलमेंट के तौर पर चुकाई गई सबसे बड़ी रकम होगी.

पर क़रीब 7 खरब 95 अरब रुपये की जुर्माने की इस रक़म में 5 ख़रब 51 अरब रुपये बतौर जुर्माना शामिल है जबकि 2 ख़रब 44 अरब रुपये की राशि संघर्ष कर रहे घर के मालिकों को राहत देने के लिए दी जाएगी.

वित्तीय संकट के दौर में कई निवेश बैंकों ने बाजार में गिरवी आधारित प्रतिभूतियों की पेशकश की थी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार