अमरीकी विमान के अपहरणकर्ता वापस लौटना चाहते हैं

  • 6 नवंबर 2013
विलियम पॉट्स
Image caption विलियम पॉट्स 13 साल क्यूबा जेल में रह चुके हैं लेकिन अब अमरीका वापस लौटना चाहते हैं.

उनतीस साल पहले एक विमान को अग़वा कर क्यूबा ले जाने वाले व्यक्ति ने कहा है कि अमरीका वापस लौट रहे हैं.

विलियम पॉट्स ने न्यू जर्सी से फ़्लोरिडा जा रहे एक विमान का अपहरण कर लिया था. विमान में 56 लोग सवार थे.

छप्पन साल के पॉट्स चरमपंथी ब्लैक पैंथर्स के सदस्य थे. वह चाहते थे कि क्यूबा उन्हें गुरिल्ला ट्रेनिंग दे.

ब्लैक पैंथर्स अफ्रीकी अमरीकियों का संगठन था जो उनके हितों के लिए लड़ने का दावा करता था.

लेकिन क्यूबा में उन्हें अपहरण के जुर्म में 13 साल की क़ैद हो गई. जेल से रिहा होने के बाद वो हवाना में रह रहे थे लेकिन अब वो अमरीका वापस लौटना चाहते हैं.

‘किसी नतीजे को तैयार’

उनका कहना है कि वो अमरीकी न्याय व्यवस्था के सामने पेश होना चाहते हैं और उन्हें उम्मीद है कि वो उनके साथ नरमी से पेश आएगा.

समाचार एजेंसी एपी ने उनके हवाले से कहा है, “मैं किसी भी नतीजे को तैयार हूं. लेकिन मेरा कहना है कि मैंने जो अपराध किया था मुझे उसकी सज़ा मिल चुकी है, अमरीका को इसे स्वीकार करना चाहिए.”

उन्होंने कहा कि वो अमरीकी राजनयिकों के संपर्क में रहे हैं जिन्होंने उनसे कहा है कि वो बुधवार को चार्टड विमान से मियामी जा सकते हैं.

फ़्लोरिडा पहुंचने पर उन्हें अमरीकी पुलिस के हवाले कर दिया जाएगा.

अनिश्चित भविष्य

उन्होंने कहा कि उन्हें नहीं मालूम कि उसके बाद क्या होगा.

1960 और 1970 के दशक में कई अमरीकी विमानों का अपहरण कर उन्हें क्यूबा ले जाया गया. लेकिन 1980 के दशक तक ये मामले कम हो गए थे. पॉट्स को उसी दौरान क्यूबा में सज़ा सुनाई गई.

जेल से रिहा होने के बाद पॉट्स ने शादी कर ली थी और उन्हें दो बेटियां भी हैं.

उनकी बेटियां अमरीका में रहती है. पॉट्स कई सालों से अमरीका जाने की कोशिश कर रहे हैं.

हालांकि पॉट्स का इरादा अमरीका में बसने का नहीं है. वो कहते हैं कि वो क्यूबा वापस आएंगे और वहीं बसेंगे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार