एनएसए की गतिविधियों पर लगाम कसेंगे ओबामा?

बराक ओबामा

अमरीकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने जासूसी के कई मामले सामने आने के बाद राष्ट्रीय सुरक्षा एजेंसी (एनएसए) की निगरानी की समीक्षा करने के संकेत दिए हैं.

उन्होंने कहा कि पूर्व में सार्वजनिक हुई जानकारियों और निगरानी कार्यक्रमों के बारे में लोगों की चिंता के मद्देनज़र लक्ष्य हासिल करने के दूसरे तरीक़े भी हो सकते हैं.

हालांकि ओबामा ने कहा कि एनएसए के पूर्व कॉन्ट्रेक्टर एडवर्ड स्नोडनने दस्तावेज़ों को सार्वजनिक कर अनावश्यक नुकसान पहुंचाया है.

ओबामा ने साल की समाप्ति पर बुलाई प्रेस कॉन्फ्रेंस में स्नोडन को माफ़ी देने के बारे में कुछ भी कहने से इनकार कर दिया.

इसी हफ़्ते की शुरुआत में संघीय जज ने एनएसए की ओर से बड़े पैमाने पर टेलीफोन डेटा इकट्ठा करने की कार्रवाई को असंवैधानिक करार दिया था.

इसके बाद राष्ट्रपति के सलाहकार पैनल ने इसमें सुधार का सुझाव दिया था.

निगरानी और संतुलन

जज और पैनल दोनों ने कहा था कि इस बात के कम उदाहरण मिले हैं कि इस कार्यक्रम से किसी चरमपंथी योजना को धवस्त किया गया हो.

ओबामा ने कहा कि इस काम को करने के और भी तरीक़े हैं, जो लोगों को निगरानी और संतुलन को लेकर आश्वस्त करेगा.

उन्होंने कहा कि बड़े पैमाने पर टेलीफ़ोन डेटा इकट्ठा करने जैसे कार्यक्रमों पर पुनर्विचार किया जा सकता है, जिससे बिना किसी तरह की परेशानी खड़ा किए ज़रूरत के मुताबिक़ वैसी सूचना मिल पाए, जैसी आपको पहले मिलती थी.

उन्होंने कहा कि व्हॉइट हाउस पैनल के सुझावों के बारे में जनवरी में वह बयान देंगे.

ओबामा ने कहा, "हमें भरोसा है कि एनएसए न तो घरेलू निगरानी और न दुनिया की जासूसी में लिप्त है. लोगों में भरोसा कायम करने के लिए हमें इसे आगे और परिभाषित करना पड़ सकता है. इसे करने के लिए मैं कड़ी मेहनत करने जा रहा हूं.''

स्नोडन को माफ़ी दिए जाने की संभावना पर उन्होंने कहा कि वह इस मसले को अदालत और अटॉर्नी जनरल पर छोड़ते हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार