कार के डैशबोर्ड में ही होगा एंड्रॉएड

Image caption गूगल पहले से ही कार हार्डवेयर में शामिल है और उसने साल 2017 तक स्वचालित कारों का वादा किया है

कारों के डैशबोर्ड में एंड्रॉयड ऑपरेटिंग सिस्टम लगाने के लिए गूगल ऑडी, होंडा और हुंडई जैसी कंपनियों से करार करने जा रही है.

ऐसा करने से स्मार्टफोन्स और टैबलेट के ऐप बेहतर ढंग से काम कर सकेंगे साथ ही सुने जाने वाले गानों की गुणवत्ता भी बेहतर हो सकेगी.

हालांकि ये इस तरह का पहला करार नहीं है बल्कि गूगल की प्रतिद्वंद्वी कंपनी एप्पल पहले ही बीएमडब्ल्यू, जीएम और होंडा जैसी कार बनाने वाली कंपनियों के साथ इसी तरह के करार कर चुकी हैं.

एक ब्लॉग पोस्ट पर गूगल ने घोषणा की कि वो जीएम और न्वीडिया जैसी कार बनाने वाली कंपनियों के साथ कार उद्योग में नवीनता को बढ़ावा देने के बारे में क़रार कर रही है.

एंड्रॉयड इंजीनियरिंग के निदेशक पैट्रिक ब्रैडी कहते हैं, "लाखों लोग पहले से ही अपनी कारों में एंड्रॉयड फोन और टैबलेट का इस्तेमाल कर रहे हैं, लेकिन अभी तक इसका अनुभव ड्राइविंग के अनुकूल नहीं रहा है."

साथ ही उन्होंने कहा, "क्या यह अच्छा नहीं होगा कि आप अपने साथ अपने पसंदीदा ऐप का इस्तेमाल और संगीत का आनंद अपनी कार में ही लगी हुई तकनीक के साथ ले सकें?"

संभावना जताई जा रही है कि ऑडी और गूगल इस सप्ताह लास वेगास में सीईएस शो में इस तरह की कुछ प्रणालियों को प्रदर्शित करेंगी.

कार में मनोरंजन

आईटी और टेलिकम्युनिकेशन की सलाहकार कंपनी ओवम के विश्लेषक जेरेमी ग्रीन कहते हैं कि कारें बहुत तेजी से प्रौद्योगिकी कंपनियों के लिए अगली जंग की मैदान बन गई हैं.

वो कहते हैं, "कार बनाने वाली कंपनियों से लेकर कार उपकरण बनाने वाली कंपनियों, बड़े सॉफ्टवेयर दिग्गजों से लेकर टेलीकॉम कम्पनियों तक हर कोई इस बाज़ार में आ रहा है."

उनके मुताबिक, "लोग अपनी कारों में बहुत समय व्यतीत करते हैं और गूगल चाहता है कि लोग कहीं भी हों, वे इसकी सेवाओं का इस्तेमाल करें. यहां तक कि कार में बैठकर आप किसी भी तरह की खोजबीन कर सकते हैं."

गूगल ने पहले से ही ड्राइवरों पर अपनी नज़रें जमा रखी हैं. जहां तक एक स्वचालित कार विकसित करने की बात है तो कंपनी ने गूगल नक्शों में एक यातायात विकल्प जोड़ा है जो कि एंड्रॉयड उपयोगकर्ताओं को ट्रैफिक जाम और सड़क संबंधी अन्य मुद्दों के बारे में सूचित करने के लिए है.

पिछली गर्मियों में गूगल ने वेज़ नाम के एक ट्रैफ़िक ऐप का अधिग्रहण किया था.

ग्रीन कहते हैं, "शो के दौरान मनोरजंन पर भी खासा ध्यान रहेगा कि कैसे आपकी कार में और अधिक सेवाएं मुहैया कराई जा सकें."

साथ ही उन्होंने कहा, "लेकिन अन्य ऐप भी शुरू किए जा रहे हैं. ऐसी प्रणालियां जो कार सर्विसेज़ की तैयारी की सूचना सीधे गैराज को भेज देंगी."

वो कहते हैं, "इसके अलावा और भी प्रणालियां है, जो उपयोगकर्ताओँ को दूर-दराज से उनके वाहन लॉक करने या खोलने, यहां तक कि कार में बैठने से पहले एसी शुरू करने में सहायक हैं."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार