नहीं रहे चर्चित गायक पीट सीगर

पीट सीजर इमेज कॉपीरइट AP

अमरीका के लोकगायक और सामाजिक कार्यकर्ता पीट सीगर की 94 साल की उम्र में मौत हो गई है.

उनके पोते ने बताया कि कुछ समय बीमार रहने के बाद न्यूयॉर्क के एक अस्पताल में उनकी मौत हुई.

छह दशक लंबे अपने करियर में उन्होंने 1948 में बने समूह द वीवर्स से ख्याति पाई. उन्होंने टर्न, टर्न, टर्न और व्हेयर आर द फ्लावर्स गॉन जैसे गाने गाए थे.

अपने विरोधी स्वर वाले गानों के लिए मशहूर सीगर को वामपंथी रुझान के चलते 50 के दशक में अमरीकी सरकार ने 'ब्लैकलिस्ट' कर दिया था.

उनके गानों के प्रसारण पर रोक लगा दी गई थी. इसके बाद सीगर ने खुद अमरीका के कॉलेजों का दौरा कर अपने गानों और अपने संदेश को पहुँचाया. उन्होंने इसे अपने करियर का 'सबसे महत्वपूर्ण काम' कहा था.

'टीवी पर लौटे'

वर्ष 1955 में अमरीकी और संयुक्त राष्ट्र की गतिविधि समिति ने उनसे इस बारे में जवाब तलब भी किए कि कहीं वह कम्युनिस्टों के लिए तो गाने नहीं गा रहे हैं.

इस पर उन्होंने कहा कि वह "बहुत नाराज़" हैं कि उनके काम की वजह से उनके कम अमरीकी होने का अनुमान लगाया गया.

उन पर अमरीकी कांग्रेस की अवमानना के आरोप भी लगे लेकिन अपील के बाद उन्हें सज़ा नहीं दी गई.

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption जॉन बेज़ और ब्रूस स्प्रिंगस्टीन ने सीगर के 90 वें जन्मदिन पर उन्हें सम्मानित किया था.

60 के दशक के अंतिम सालों में वह टीवी पर लौटे लेकिन वियतनाम की लड़ाई के विरोध में बनाए उनके एक गाने पर प्रतिबंध बना रहा.

2011 में अमरीका में हुए 'ऑक्यूपाई वॉल स्ट्रीट' आंदोलन में भी वह सक्रिय रहे.

बिल क्लिंटन ने उनकी प्रशंसा करते हुए कहा था, "वह एक ऐसे कलाकार हैं जिनसे सरकार को मुश्किल होती है लेकिन उनमें चीज़ों को वैसा ही कहने की हिम्मत है जैसा वो देखते हैं."

1996 में वह अमरीका के रॉक एंड रोल हॉल ऑफ़ फ़ेम में शामिल हुए और 1997 में सर्वश्रेष्ठ लोकगीत एल्बम के लिए उन्हें ग्रैमी अवॉर्ड भी दिया गया.

2006 में स्प्रिंगस्टीन ने सीगर के गए हुए गानों की एक एल्बम रिकॉर्ड की.

इसके अलावा पीट सीगर ने बच्चों के लिए भी एल्बम रिकॉर्ड की थी.

सीगर की पत्नी तोषी एक सामाजिक कार्यकर्ता थीं और साथ ही वह फ़िल्म भी बनाती थीं. पिछले साल जुलाई में 91 साल की उम्र में उनकी मौत हो गई थी. सीगर दंपत्ति के तीन बच्चे हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार