हॉन्ग कॉंन्ग में मिला द्वितीय विश्व युद्ध का बम

हॉंग कॉंग बम निरोधक दस्ता इमेज कॉपीरइट AFP

हॉन्ग कॉंन्ग पुलिस ने शहर से बरामद 900 किलो वजन के बम को सफलतापूर्वक निष्क्रिय कर दिया है. यह बम दूसरे विश्व युद्ध के समय का था.

हॉन्ग कॉन्ग की हैप्पी वैली में गुरुवार (6 फरवरी) की दोपहर जब यह बम एक निर्माण स्थल से बरामद हुआ तो वहां अफरातफरी मच गई.

फौरन उस स्थल और आस पास के इलाके से 2200 लोगों को हटाया गया.

एएन-एम66 बम में 450 किलो विस्फोटक पाया गया है.

संवेदनशील विस्फोटक

ऐसा माना जा रहा है कि यह बम अमरीकी नौसेना ने दूसरे विश्व युद्ध के दौरान तब गिराया गया था जब जापान ने उस समय के इस ब्रितानी उपनिवेश पर क़ब्ज़ा कर लिया था.

बम निष्क्रिय दस्ते के वरिष्ठ अधिकारी जिमी यूएन ने बताया कि दूसरे विश्व युद्ध में गिराए गए एएन-एम66 बम को निष्क्रिय करने में काफी वक्त लग गया.

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption 2200 से ज्यादा लोगों को आनन फानन में स्थल से हटाया गया.

उन्होंने बताया कि बम में भारी मात्रा में मौजूद विस्फोटकों के कारण इसे निष्क्रिय करने में तकनीकी समस्या पेश आ रही थी.

उन्होंने आगे बताया, "बम के अंदर मौजूद विस्फोटक काफी संवेदनशील था. हमें इसके खोल को निम्न तापमान में काटना पड़ा. इससे पूरी प्रक्रिया उम्मीद से कहीं ज्यादा लंबी साबित हुई."

उन्होंने पत्रकारों को बताया कि इस बम के फटने से 10 मीटर के दायरे और उसके आस पास मौजूद इमारतों और लोगों को नुकसान उठाना पड़ सकता था.

हॉन्ग कॉन्ग में पहले भी ऐसे बम बरामद हुए हैं जिन्हें बाद में निष्क्रिय कर दिया गया.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार