सीरियाः बड़ी संख्या में विद्रोहियों की मौत

सीरिया इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption सेना के हमले में बड़ी संख्या में विद्रोही मारे गए.

सीरिया की राजधानी दमिश्क़ के पूर्वी छोर पर घात लगाकर किए गए सैन्य हमले में भारी संख्या में इस्लामी विद्रोही मारे गए हैं. मीडिया रिपोर्टों से यह जानकारी मिली है.

मीडिया की ओर से जारी की गई सूचना के अनुसार सीरियाई सेना के हमले में 175 लोगों की मौत हुई है.

ब्रिटेन में स्थित सीरियाई मानवाधिकार निगरानी संस्था का कहना है कि उसे मिली जानकारी के अनुसार पूर्वी घऊटा इलाक़े में हुए संघर्ष में कम से कम 70 लोग मारे गए हैं.

यह इलाक़ा विद्रोहियों का गढ़ माना जाता है. बताया जाता है कि यहां सीरिया की सेना ने पिछले साल रसायनिक हथियारों से हमले किए थे.

इस्लामी विद्रोही

सरकारी टेलीविज़न ने बताया है, "सूचना मिलते ही हमारी साहसी सेना ने सुनियोजित तरीक़े से पूर्वी घऊटा इलाक़े में घात लगाते हुए अल-नुसरा के दर्जनों चरमपंथियों को मार गिराया. इनमें से अधिकतर ग़ैर सीरियाई चरमपंथी थे."

मानवाधिकार की सीरियाई निगरानी संस्था ने कहा, "वफ़ादार सैनिकों की टुकड़ी के घात लगाकर किए गए हमले में दर्जनों इस्लामी विद्रोहियों की मौत हुई है. ये हमला (लेबनान के शिया समूह) हिज़्बुल्लाहकी मदद से पूर्वी घऊटा इलाक़े के ओतब गांव के पास किया गया है."

सरकारी समाचार एजेंसी सना ने जानकारी दी है कि इस गोलीबारी में मुख्यतः सऊदी, क़तर और चेचन विद्रोही मारे गए.

नुसरा मोर्चा अल-क़ायदा से जुड़ा वह समूह है जो राष्ट्रपति बशर अल-असद के ख़िलाफ़ किए गए सशस्त्र विद्रोह के ज़रिए इसमें शामिल हुआ.

सीरिया के गृहयुद्ध में मार्च 2011 से अब तक 140,000 लोग मारे गए हैं और लाखों लोग देश छोड़कर जाने को मजबूर हो गए.

(बीबीसी हिंदी का एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें. आप ख़बरें पढ़ने और अपनी राय देने के लिए हमारे फ़ेसबुक पन्ने पर भी आ सकते हैं और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार