रातों-रात ग़ायब हो गया दस मीटर का आम

  • 17 मार्च 2014
इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption शुरू में अधिकारियों को इस प्रतिमा के ग़ायब पर भरोसा नहीं हुआ

ऑस्ट्रेलियाई शहर बोवेन में एक दिलचस्प चोरी का मामला सामने आया है.

करीब सात टन वज़नी, दस मीटर लंबा और आठ मीटर चौड़ा मैंगो मॉन्यूमेंट यानी आम के आकार की बनी प्रतिमा को कुछ लोगों ने ग़ायब कर दिया.

'बिग मैंगो' के नाम से मशहूर इस प्रतिमा को 2002 में बनाया गया था. बोवेन टूरिज़्म के मुताबिक़ आम की इस प्रतिमा को बनाने में क़रीब 50 हज़ार डॉलर ख़र्च हुए थे.

उत्तरी क्वींसलैंड के शहर बोवेन में आम का उत्पादन प्रचुर मात्रा में होता है, लिहाज़ा इसके लिए यह प्रतिमा बनाई गई थी.

बोवेन टूरिज़्म के चैयरमैन पॉल मैक्लाघलिन ने इस चोरी की जानकारी दी है.

उन्होंने ऑस्ट्रेलियाई ब्रॉडकॉस्टिंग कॉरपोरेशन से कहा, "सुबह-सुबह दो बजे के क़रीब लोगों ने इसे ग़ायब किया. बिग मैंगो को ले जाने के लिए भारी उपकरणों का इस्तेमाल किया गया."

मशहूर क्वींसलैंड

मैक्लाघलिन ने बताया है कि जब उन्हें इस चोरी की जानकारी मिली तो उन्हें लगा कि कोई मज़ाक कर रहा है. लेकिन बाद में उन्होंने ख़ुद जाकर इसकी तस्दीक की.

हालांकि उन्होंने उम्मीद जताई कि बिग मैंगो की प्रतिमा को हासिल कर लिया जाएगा.

बोवेन पुलिस स्टेशन ने फेयरफैक्स मीडिया से कहा कि अभी इस मामले की पुलिस जांच नहीं की जा रही है.

चोरी का सीसीटीवी फ़ुटेज भी मौजूद है, जिसके मुताबिक़ क्रेन के ज़रिए क़रीब तीन मंज़िली इस इमारत को लोगों ने स्थापित जगह से हटाया है.

वैसे क्वींसलैंड दुनिया भर में 150 चीज़ों के बड़े स्मारकों के लिए मशहूर है. इस शहर में स्ट्रॉबेरी, केला, अनानास, संतरा और सेब के भी काफ़ी बड़े स्मारक मौजूद हैं.

इतना ही नहीं, इस शहर में मछली, समुद्री झींगा, पेंग्विन, कंगारू, शराब के पीपे की बड़ी प्रतिमा भी आपको देखने को मिल जाएंगी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार