मलेशिया जल्द विमान का पता लगाए: चीन

लापता विमान की तलाश इमेज कॉपीरइट AP

चीन ने मलेशिया एयरलाइंस के विमान की खोजबीन के लिए अपने प्रयास तेज़ करने को कहा है.

अंतरराष्ट्रीय प्रयासों के बावजूद तीन दिन पहले 'ग़ायब' हुए इस जेट का अभी तक मलबा नहीं मिला है.

विमान एमएच370 तीन दिन पहले बीजिंग से कुआलालंपुर से जाते हुए अचानक राडार से ग़ायब हो गया था. इसमें 239 यात्री सवार थे. इनमें 150 चीनी यात्री शामिल हैं.

इस बीच यात्रियों के परिजनों को किसी भी स्थिति के लिए तैयार रहने को कहा गया है.

चीन ने मलेशियाई अधिकारियों से कहा है कि उन्हें विमान का पता लगाने के लिए अपने 'प्रयासों को तेज़ करने की ज़रूरत' है.

चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता किन गैंग ने कहा है कि "यह हमारी.. ज़िम्मेदारी है कि हम मलेशिया से अपने प्रयास तेज़ करने को कहें, जल्द से जल्द इसकी जांच शुरू करने को कहें और वह समय समय पर सही सूचनाएं चीन को दे.''

गुत्थी अनसुलझी

इससे पहले मलेशिया के नागरिक उड्डयन प्राधिकरण ने कहा था कि मलेशियाई एयरलाइंस के विमान के गायब होने की गुत्थी अभी नहीं सुलझाई जा सकी है.

प्राधिकरण के प्रमुख अज़हरूद्दीन अब्दुल रहमान ने कहा कि अधिकारियों ने दक्षिण चीन सागर में विमान के गायब होने में अपहरण की आशंका को अभी ख़ारिज नहीं किया है.

रहमान ने सोमवार को एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि वियतनाम के समुद्र में विमान के टुकड़े देखे जाने की पुष्टि नहीं हुई है और न ही विमान के ब्लैक बॉक्स से अब तक किसी तरह का सिग्नल मिला है.

इसके पहले वियतनाम की नौ सेना ने समुद्र में विमान के दरवाजे के टुकड़े जैसा मलबा देखने का दावा किया था.

इस पर अज़हरूद्दीन ने कहा कि वियतनाम यह साबित करने में सक्षम नहीं है कि मलबा विमान का ही है.

अज़हरूद्दीन ने कहा कि विमान के गायब होने के पीछे हाईजैक के साथ-साथ सभी संभावनाओं की जांच की जा रही है.

किसका है मलबा?

इमेज कॉपीरइट Reuters

वियतनाम की नौसेना ने कहा है कि समुद्र में दिखे टुकड़े दो दिन पहले गायब हुए मलेशिया एयरलाइंस के विमान के हो सकते हैं.

अधिकारियों का कहना है कि बहुत अधिक अंधेरा होने की वजह यह तय नहीं हो पाया कि देखे गए टुकड़े मलेशिया एयरलाइंस की लापता उड़ान संख्या एमएच370 के ही थे.

वहीं इस मामले की जांच कर रहे मलेशिया की ख़ुफ़िया सेवा के अधिकारी गायब हुए दो पासपोर्टों पर विमान में यात्रा कर रहे दो यात्रियों के सीसीटीवी फुटेज की भी जांच कर रहे हैं. इस बात की पुष्टि हो गई है कि लापता विमान में दो लोग चोरी के पासपोर्ट पर यात्रा कर रहे थे.

वियतनामी अधिकारियों ने रविवार देर रात कहा था कि दक्षिण वियतनाम समुद्र में देखा गया मलबा लापता विमान का हो सकता है.

खोज और बचाव अभियान की राष्ट्रीय समिति के एक अनाम अधिकारी ने समाचार एजेंसी एएफ़पी से कहा, ''हमें एक वियतनामी ज़हाज से मिली सूचना में कहा गया है कि हमने दो टूटे हुए टुकड़े देखे हैं, जो कि हवाई ज़हाज के लगते हैं. ये टुकड़े थो चू द्वीप से 50 किलोमीटर दक्षिण-पश्चिम में देखे गए.''

अधिकारी ने कहा, ''रात होने की वजह से वो उन टुकड़ों की व्यापक जांच नहीं कर पाए. इसलिए उस जगह का पता लगाकर वो वापस किनारे लौट आए.''

इस लापता विमान की तलाश में कई देशों के तीस से ज़्यादा विमान और 40 ज़हाज़ दिन-रात जुटे हुए हैं.

इस बीच रडार के डेटा से संकेत मिला है कि विमान ने उड़ान भरने के बाद शायद मलेशिया की ओर वापस लौटने का प्रयास किया था.

चोरी के पासपोर्ट पर यात्रा

इमेज कॉपीरइट Reuters

अज़हरूद्दीन ने कहा कि इस विमान के लिए पाँच लोगों ने टिकट बुक कराई थी. लेकिन वो उसमें सवार नहीं हुए इसलिए उनका सामान हटा दिया गया.

ये यात्री इटली और ऑस्ट्रेलिया के पासपोर्ट पर यात्रा कर रहे थे जिन्हें थाईलैंड में चुराया गया था. इसी समय उनके टिकट भी ख़रीदे गए थे. उन्होंने शनिवार को बीजिंग से यूरोप की यात्रा के लिए टिकट बुक कराया था.

इन यात्रियों ने चाइना सदर्न एयरलाइंस से टिकट ख़रीदा था, जो मलेशिया एयरलाइंस से उड़ानें साझा करती है. उनके टिकट के नंबर भी पास-पास थे.

अंतरराष्ट्रीय पुलिस संगठन इंटरपोल के महासचिव रोनाल्ड नोबल ने कहा है, ''लापता विमान और चोरी के पासपोर्ट के बीच किसी तरह के संबंध का अनुमान लगाना अभी बहुत जल्दबाज़ी होगी. लेकिन यह बड़ी चिंता की बात है कि इंटरपोल के डाटाबेस में दर्ज चोरी के पासपोर्ट को लेकर कोई यात्री अंतरराष्ट्रीय उड़ान में सवार हो गया.''

इस विमान ने शनिवार को कुआलालंपुर से स्थानीय समयानुसार पौने एक बजे बीजिंग के लिए उड़ान भरी थी. लेकिन क़रीब 50 मिनट बाद विमान का रेडियो संपर्क मलेशिया और वियतनाम के बीच कहीं टूट गया.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार