मिस्र: पूर्व राष्ट्रपति के 529 समर्थकों को मौत की सज़ा

मोहम्मद मोर्सी इमेज कॉपीरइट AP

मिस्र की अदालत ने पूर्व राष्ट्रपति मोहम्मद मोर्सी के समर्थक 529 लोगों को मौत की सज़ा सुनाई है.

इन लोगों पर एक पुलिसवाले की हत्या और पुलिस पर हमले करने के आरोप हैं.

जिन्हें मौत की सज़ा सुनाई गई है वे सभी लोग मुस्लिम ब्रदरहुड संगठन से जुड़े हैं. जिन लोगों को सज़ा सुनाई गई है, उनके समेत 1200 समर्थकों पर लंबे वक़्त से मुक़दमा चल रहा था.

मिस्र के अधिकारियों ने मोर्सी समर्थक इस्लामी लोगों पर कड़ाई के साथ कार्रवाई की है. पिछले साल मोर्सी को उनके पद से हटा दिया गया था.

इसके बाद हज़ारों लोगों को गिरफ़्तार किया गया और सैकड़ों लोग मारे गए.

राजधानी काहिरा के दक्षिण में मौजूद मिन्या की अदालत ने यह आदेश दो सत्रों की सुनवाई के बाद जारी किया है. एसोसिएटेड प्रेस के मुताबिक़ जिसके दौरान बचाव पक्ष के वकीलों ने शिकायत की थी कि उन्हें अपना केस रखने का मौक़ा नहीं दिया गया.

जिन हमलों के आरोप में लोगों को मौत की सज़ा सुनाई गई है, उनके बारे में कहा गया है कि वे सुरक्षा बलों पर पिछले साल अगस्त में किए गए थे. इसके बाद काहिरा में मोर्सी समर्थकों के शिविरों पर सुरक्षा बलों ने हमला किया था. इसके बाद कई दिनों तक चले संघर्ष में सैकड़ों लोग मारे गए थे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार