सीएआर: 12,000 शांति सैनिक भेजने की मंज़ूरी

मध्य अफ्रीकी देश सेंट्रल अफ़्रीकन रिपब्लिक इमेज कॉपीरइट AP

संयुक्त राष्ट्र की सुरक्षा परिषद ने मध्य अफ्रीकी देश सेंट्रल अफ़्रीकन रिपब्लिक (सीएआर) में 12,000 शांति सैनिक भेजने के प्रस्ताव को मंज़ूरी दे दी है.

संयुक्त राष्ट्र महासचिव बान की मून ने कहा है कि सीएआर में जारी 'जातीय-धार्मिक सफ़ाए' के दौरान हत्याएं और यौन अपराध करने वालों को कोई सज़ा नहीं दी जा रही है.

संयुक्त राष्ट्र के प्रस्ताव में इन शांति सैनिकों के साथ ही 2,000 फ्रांसीसी सैनिकों की तैनाती के लिए भी अधिकृत किया गया है.

सीएआर में जारी हिंसा में अब तक हज़ारों लोग मारे जा चुके हैं जबकि क़रीब 13 लाख या देश की एक तिहाई आबादी को मदद की दरकार है.

बीते दिनों विरोधी गुटों के बीच हुई हिंसा में कम से कम 30 लोग मारे गए थे और कई घायल हुए हैं.

बीते साल मुस्लिम चरमपंथियों ने सत्ता पर अपना क़ब्ज़ा कर लिया था, जिसके बाद से बदलने की भावना से आम मुसलमान नागरिकों पर हमले जारी हैं.

'डरावनी कहानियां'

इमेज कॉपीरइट AFP

सीएआर फ्रांस का उपनिवेश रह चुका है और यहां पहले ही फ्रांस के 2000 सैनिक तैनात हैं. इसके अलावा अफ्रीकी संघ (एयू) के 6,000 सैनिक भी वहां हैं. आगामी सितंबर में यूएन मिशन अफ्रीकी संघ के सैनिकों की जगह ले लेगा.

संयुक्त राष्ट्र के प्रस्ताव को सर्वसम्मति से स्वीकार किया गया और इसमें फ्रांसीसी सैनिकों को अफ्रीकी संघ के सैनिकों की मदद के लिए "सभी ज़रूरी कदम उठाने" के लिए अधिकृत किया गया है.

समाचार एजेंसी एएफ़पी के मुताबिक संयुक्त राष्ट्र के सैनिक नागरिकों की रक्षा और कानून व्यवस्था को बनाए रखने और राजनीतिक हस्तांतरण में मदद के लिए काम करेंगे.

बान ने बीबीसी के लिए लिखे अपने एक खास लेख में कहा है कि हाल में उनकी सीएआर की यात्रा के दौरान उन्होंने वहां यौन हिंसा, अपहरण और जान के जोखिम की "डरावनी कहानियां" सुनीं.

उन्होंने 1994 के नरसंहार का हवाला देते हुए अंतरराष्ट्रीय समुदाय से अपील की कि हमें सीएआर को "अपने समय का एक और रवांडा" नहीं बनने देना चाहिए.

सीएआर में सोने, हीरे और दूसरे बहुमूल्य प्राकृतिक संसाधन हैं, लेकिन दशकों से जारी अशांति और कुप्रबंधन के चलते उसके ज़्यादातर लोग ग़रीबी के जाल में जकड़े हुए हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार