राष्ट्रपति चुनाव में नानी को नफ़ा या नुक़सान?

  • 25 अप्रैल 2014
चेल्सी क्लिंटन, पति मार्क इमेज कॉपीरइट Getty

बिल और हिलेरी क्लिंटन की बेटी चेल्सी क्लिंटन मां बननेवाली हैं.

बहुत अच्छी ख़बर है. बधाई हो.

अमरीकी मीडिया से अमरीका के नंबर एक राजनीतिक ख़ानदान के लिए क़ायदे से यही आवाज़ सुनाई देनी चाहिए थी.

लेकिन जब से अख़बार रंगीन हुए हैं, ख़बरें भी रंगीन नज़र आनी चाहिए तो चलिए थोड़ा बहुत मां-बाप, नानी-नाना की हंसती-मुस्कराती, बेटी-दामाद को गले लगाती डिज़ाइनर कपड़ों वाली तस्वीरें भी छाप लें.

मरफ़ी रेडियो के गोलूमोलू बच्चे जैसी तस्वीर के साथ लड़का होगा या लड़की, शकल सूरत बाप जैसी होगी या नाना जैसी, इन सब पर जितनी पतंगबाज़ी की जा सकती है वो भी कर लें.

अब 34 साल की शादीशुदा महिला मां बनने जा रही है तो इससे ज़्यादा मसाला और क्या डाल लेंगे?

लेकिन यहां जो आवाज़ें सुनाई दीं वो अपने आप में अमरीकी मीडिया पर पीएचडी करने का विषय है.

यहां पूरे जोशोखरोश के साथ मीडिया में ये बहस छिड़ी हुई है कि ये बच्चा हिलेरी के 2016 के चुनावी मुहिम के लिए फ़ायदेमंद होगा या उससे हिलेरी की इमेज को नुक़सान पहुंचेगा!

इमेज कॉपीरइट AP
Image caption अनुमान है कि हिलेरी क्लिंटन 2016 के राष्ट्रपति चुनाव में डेमोक्रेटिक पार्टी की ओर से उम्मीदवार होंगी.

जिस बिचारे या बिचारी ने अभी मां के पेट के अंदर शायद हाथ-पांव मारना भी नहीं शुरू किया होगा, जिसकी धड़कनें अभी शायद डॉक्टर ही पकड़ पाता होगा, वो अमरीका की सियासी नब्ज़ पर क्या असर डालेगा उस पर पन्ने रंगे जा रहे हैं. ऐंकर समेत चार-चार राजनीतिक विश्लेषक टेलीविज़न पर ऐसी बहस कर रहे हैं जैसे ईरान और सीरिया का भविष्य तय होनेवाला हो.

चुनाव में नफ़ा या नुक़सान?

अमरीका में दो ही तरह के लोग हैं. एक वो जो क्लिंटन परिवार से बेहद मोहब्बत करते हैं और दूसरे वो जो उनसे हद से ज़्यादा नफ़रत करते हैं.

मीडिया में भी लकीर कुछ वैसी ही खिंची हुई है.

तो क्लिंटन परिवार की चमक से चकाचौंध रहने वाले मीडिया की सुनें तो जब हिलेरी क्लिंटन चेल्सी के दो साल के बच्चे को लेकर चुनावी अभियान में उतरेंगी तो उनके चेहरे पर मातृत्व की गर्माहट देखकर वोटर ऐसे खिंचे चले आएंगे जैसे हैमलिन शहर के बांसुरीवादक की धुन पर पूरे शहर के बच्चे खिंचे चले आते थे.

यानी मीडिया के इस तबके ने एक तरह से ये भी एलान कर दिया कि चेल्सी का भ्रूण हिलेरी के लिए चुनाव प्रचार करेगा और ये एलान तो वो पहले ही कर चुके हैं कि हिलेरी 2016 के राष्ट्रपति चुनाव में खड़ी हो रही हैं. वैसे हिलेरी ने ख़ुद ये अभी तक नहीं कहा है.

एक अख़बार ने बिल्कुल देसी टीवी चैनलों की तर्ज़ पर कि "देखने वाली बात होगी कि ऊंट किस करवट बैठेगा" कहते हुए निचोड़ निकाला कि अभी ये कहना मुश्किल होगा कि हिलेरी की चुनावी मुहिम पर इस बच्चे का क्या असर होगा.

लेकिन जो मीडिया का दूसरा तबका है उसके दिमाग में कहीं कनफ़्यूज़न नहीं है.

उनकी मानें तो बिल और हिलेरी क्लिंटन ने चेल्सी से कहा होगा कि ऐसे ही वक़्त पर बच्चा पैदा करो जिससे हमें चुनाव में फ़ायदा हो.

इमेज कॉपीरइट AP

उन्होंने अमरीका को अभी से बताना शुरू कर दिया है कि एक नानी अम्मा को देश के राष्ट्रपति की ज़िम्मेदारी देना सही नहीं है क्योंकि उनकी असली ज़िम्मेदारी घर में होगी.

भ्रूण के नाम चिट्ठी!

वैसे मुझे ये नहीं मालूम कि अब तक के अमरीकी राष्ट्रपतियों में से कितने दादा या नाना बन चुके थे लेकिन रिपब्लिकन पार्टी की तरफ़ से राष्ट्रपति पद के तगड़े उम्मीदवार समझे जाने वाले जेब बुश दादा बन चुके हैं.

लेकिन वो मर्द हैं, उन्हें घर-बार की ज़िम्मेदारी से क्या लेना!

एक अख़बार ने तो चेल्सी के भ्रूण के नाम चिठ्ठी लिख डाली है जिसमें उसकी मां, दादी, नानी, नाना सब पर ताने मारे गए हैं. बिचारे भ्रूण से कहा गया है कि जिस उम्र में बच्चे रेंगना सीखते हैं उस उम्र में तुम अपनी मुस्कान और किलकारियों से नानी अम्मा के साथ वोटरों को रिझाने का काम कर रहे होगे.

तुम राज-परिवार में पैदा हुए हो, तुम्हें नानी नाना की ग़लत कमाई की बदौलत कभी किसी चीज़ की कमी नहीं होगी.

और हां अगर तुम लड़के हो तो जैसे ही 14-15 के होगे तो तुम्हारे नाना बिल क्लिंटन तुमसे कहेंगे कि अपनी सभी गर्लफ़्रेंड्स को बिकिनी पार्टी के लिए अपने स्विमिंग पूल पर बुलाओ. तुम्हारे नाना को नौजवान लोग ख़ासकर नई उम्र की लड़कियां बेहद पसंद हैं.

वैसे अगर आपको ये लग रहा हो कि ये छोटे-मोटे अख़बार है जिनकी रोज़ी-रोटी इसी तरह की ख़बरों से चलती है तो बता दूं आपको कि दुनिया के जाने माने अख़बार वॉशिंगटन पोस्ट की वेबसाइट पर इन दिनों अमरीकियों से चेल्सी के बच्चे के लिए नाम सुझाने की फ़र्माइश की जा रही है.

साथ में ये भी लिखा जा रहा है इतिहास का हिस्सा बनिए. क्या पता आपका सुझाया हुआ नाम 2052 में राष्ट्रपति पद की उम्मीदवारी के लिए खड़ा हो!

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार