नाइजीरिया की राजधानी में धमाका, 19 की मौत

अबुजा में धमाका इमेज कॉपीरइट AP

पुलिस का कहना है कि नाइजीरिया की राजधानी अबुजा में न्यान्या बस अड्डे पर हुए बम धमाके में कम से कम 19 लोग मारे गए हैं और 60 अन्य लोग घायल हुए हैं.

एक प्रत्यक्षदर्शी का दावा है कि उन्होंने घटनास्थल पर 20 शव देखे हैं. संवाददाताओं का कहना है कि यह एक कार बम धमाका था. ये धमाका उस जगह के क़रीब हुआ, जहां 14 अप्रैल को भी धमाका हुआ था जिसमें 70 लोग मारे गए थे.

किसी भी संगठन ने अभी तक इस हमले की ज़िम्मेदारी नहीं ली है. हालांकि इस्लामी चरमपंथी समूह बोको हराम राजधानी अबुजा में पहले इस तरह के हमले करता रहा है. 14 अप्रैल को होने वाले धमाके भी बोको हराम ने ही करवाए थे.

अबुजा में अगले हफ्ते विश्व आर्थिक मंच की बैठक होने वाली है जिसमें विश्व के कई नेताओं के आने की संभावना है.

सुरक्षा की चिंता

अबुजा में मौज़ूद बीबीसी संवाददाता विल रॉस का कहना है कि जहाँ धमाका हुआ है, वह मिश्रित आबादी वाला इलाक़ा है, हालांकि अभी यह साफ़ नहीं हुआ है कि इस इलाक़े को क्यों निशाना बनाया गया.

गुरुवार को हुए हमले के एक प्रत्यक्षदर्शी चार्ल्स ओसूयूके ने बताया कि यह धमाका 14 अप्रैल के धमाके वाली जगह से क़रीब दो सौ मीटर की दूरी पर हुआ.

उन्होंने बताया, ''भीड़ में मौजूद लोग कह रहे थे कि एक व्यक्ति ने अपनी कार पार्क की और वहाँ से दूर हटा, उन्हें अगली चीज़ जो याद है वह यह की कार में धमाका हो गया.''

क्यूसेक ने कहा, ''मैं यहां सुरक्षा को लेकर चिंतित हूं. पिछले धमाके के बाद राष्ट्रपति ने कहा था कि सुरक्षा बढ़ा दी जाएगी. जब धमाका हुआ तो वहाँ पुलिस वाले मौजूद थे. लेकिन उन्होंने इसे रोकने के लिए कुछ नहीं किया.''

आपाताकालीन प्रबंधन एजेंसी के प्रमुख अब्बास ने बीबीसी को बताया कि धमाके में 19 लोग मारे गए हैं और 60 अन्य लोग घायल हुए हैं.

बोको हराम की सक्रियता

इमेज कॉपीरइट Reuters

इस्लामी चरमपंथी समूह बोको हराम नाइजीरिया के पूर्वोत्तर इलाक़े में ख़ासा सक्रिय है जहां उसने कई बार हमले किए हैं.

लेकिन 14 अप्रैल के हमले ने इस बात की आशंका बढ़ा दी है कि चरमपंथी अपने इलाक़े का विस्तार करने की कोशिश कर रहे हैं.

पिछले महीने की 14 तारीख़ को हुए हमले के बाद बोको हराम के प्रमुख अबुबाकर शेखु ने एक वीडियो संदेश में कहा था, ''हम आपके शहर में हैं. लेकिन आप नहीं जानते हैं कि हम कहाँ हैं.''

विल रॉस का कहना है कि धमाके की नई घटना ऐसे समय हुई है जब कुछ ही दिन पहले 200 से अधिक स्कूली लड़कियों का अपहरण किया गया है.

इस वर्ष अभी तक बोको हराम के लड़ाके नाइजीरिया के तीन राज्यों में 1500 से अधिक नागरिकों को मार चुके हैं.

इस गुट ने पहले भी कई बार अबुजा पर हमला किया है. गुट ने वर्ष 2011 में संयुक्त राष्ट्र की इमारत को भी निशाना बनाया था.

नाइजीरिया की सरकार का कहना है कि हिंसा का दायरा देश के पूर्वोत्तर इलाक़े तक सीमित रहा है.

(बीबीसी हिंदी का एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें. आप ख़बरें पढ़ने और अपनी राय देने के लिए हमारे फ़ेसबुक पन्ने पर भी आ सकते हैं और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार