टीचर को 'सर' या 'मिस' कहने पर उठे सवाल

महिला शिक्षक इमेज कॉपीरइट

स्कूलों में शिक्षकों को 'सर' या 'मिस' कहना अवसाद पैदा करने वाला और सेक्सिस्ट होता है. यह महिलाओं को अपने पुरुष साथियों के मुकाबले निम्न स्तर पर भी रखता है.

इंग्लैंड की शिक्षाविद प्रोफ़ेसर कोट्स ने टाइम्स के शिक्षा परिशिष्ट (टीईएस) से बातचीत में कहा "सर एक नाइट है.... लेकिन मिस बेहूदा है- यह कहीं से भी सर के बराबर नहीं है."

उनका इशारा ब्रितानी सरकार की तरफ से दी जाने वाली 'सर' की उपाधि की तरफ था.

उन्होंने कहा कि एक माध्यमिक स्कूल में स्वैच्छिक काम करने के दौरान उन्हें इस भेदभाव का अहसास हुआ.

वहीं एक अन्य शिक्षाविद् का कहना है कि 'मिस' कहलाया जाना आदर सूचक है.

मतभेद

रोहैंपटन विश्वविद्यालय में अंग्रेज़ी भाषा और भाषा विज्ञान की रिटायर्ड शिक्षक प्रोफ़ेसर कोएट्स कहती हैं कि वह यह देखकर चकित रह गई थीं कि महिला और पुरुष शिक्षकों को अलग-अलग पदवियां दी जाती हैं.

"मुझे नहीं लगता था कि इन युवा शिक्षकों की पेशेवर स्थितियों में इतने ख़राब स्तर तक भेदभाव होगा. वह सब सर हैं और मैं नहीं हूं."

प्रोफ़ेसर कोएट्स कहती हैं, "यह एक बहुत निराशाजनक उदाहरण है कि कैसे महिलाओं को पुरुषों के मुकाबले निम्न दर्जा दिया जाता है. पुरुष कितने ही युवा या नौकरी में कितने ही नए क्यों न हों, उन्हें उच्च स्तर प्रदान किया जाता है."

लेकिन शेफ़ील्ड हैलेम विश्वविद्यालय की प्रोफ़ेसर सारा मिल्स कहती हैं कि ब्रिटेन के स्कूल अब इस दिशा में बढ़ रहे हैं कि विद्यार्थी अपने शिक्षकों को उनके पहले नाम से पुकार सकें.

उन्होंने टीईएस से कहा, "कई बार शिक्षकों को लगता है कि वह विद्यार्थियों पर तब बेहतर ढंग से नियंत्रण कर सकते हैं जब वह उनके बीच समानताओं पर ज़ोर दें, इसके बजाय कि उन्हें जहां तक हो अलग-अलग रखें."

लेकिन दक्षिण-पूर्व इंग्लैंड के ब्रुक प्रशिक्षण ट्रस्ट की मुख्य कार्यकारी अधिकारी डेबी कॉस्लेट कहती हैं कि 'सर' और 'मिस' में कोई भेदभाव नहीं है.

वह कहती हैं, "मैं हमेशा यही जवाब देती हैं कि मेरा नाम मिस नहीं है, यह मिसिज़ कॉसलेट है."

"लेकिन किसी ऐसे स्कूल में जहां विद्यार्थी मुझे जानते नहीं हैं और वह मुझे मिस कहकर पुकारते हैं, मुझे कोई दिक्कत नहीं होती. वह मुझे एक पदवी के साथ पुकारकर मुझे इज्ज़त दे रही हैं."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार