ईरान की राजधानी तेहरान में तूफ़ान से चार की मौत

इमेज कॉपीरइट Getty

ईरान की राजधानी तेहरान में धूल भरे तेज़ तूफ़ान से कम से कम चार लोग मारे गए हैं और लगभग तीस घायल हुए हैं.

इस तूफ़ान के दौरान 110 किलोमीटर प्रति घंटा तक की रफ़्तार से हवाएं चलीं, जिसमें बहुत से पेड़ उखड़ गए और कई घरों की खिड़कियों को नुक़सान हुआ.

चश्मदीदों ने बीबीसी को बताया कि तूफ़ान के कारण उठी धूल से आसमान नारंगी हो गया. संवाददाताओं का कहना है कि तेहरान में इस तरह के तूफ़ान आम तौर पर नहीं आते हैं.

इससे न सिर्फ़ बिजली चली गई बल्कि कई जगहों पर कई हादसे भी हुए क्योंकि धूल और मिट्टी ने पूरे शहर को अपनी चपेट में ले लिया.

समाचार एजेंसी एपी का कहना है कि कुछ हवाई उड़ानों के रास्ते भी तूफ़ान के कारण बदलने पड़े.

तेहरान में एक दुकानदार ने एपी को बताया, “बहुत ही भयानक तूफ़ान था और अनाचक अंधेरा घिर आया. मैंने तुरंत दुकान का शटर गिरा दिया ताकि ज़्यादा नुकसान न हो. एक बड़ा पेड़ गिर गया जिससे मेरी खिड़कियां टूट गईं.”

इमेज कॉपीरइट Getty
Image caption धूल और ग़ुबार ने पूरे शहर को अपनी चपेट में ले लिया.
इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption देखते ही देखते दिन में अंधेरा छा गया.
इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption तूफ़ान के कारण कई घरों को नुक़सान हुआ और लोग बचने के लिए भागते नज़र आए.
इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption कई लोग तूफ़ान में गिरे पेड़ों से घायल हुए.
इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption एकदम धुंध छा जाने से कई हादसे भी हुए.

इस तूफ़ान में कितने लोग मारे गए हैं, ये अभी स्पष्ट नहीं है. ईरान के सरकारी टीवी ने जहां पांच लोगों के मारे जाने की ख़बर दी है, वहीं ईरान की सरकारी समाचार एजेंसी इरना ने चार लोगों की मौत की बात कही है.

बताया जाता है कि पेड़ गिरने से भी कई मौतें हुई हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार