जर्मनी: सबसे गहरी गुफ़ा में बचाव अभियान

  • 10 जून 2014
गुफा में उतरता एक राहतकर्मी इमेज कॉपीरइट AP

जर्मनी की सबसे गहरी गुफ़ा में फंसे व्यक्ति की हालत उससे कहीं बेहतर है जितनी कि समझी जा रही थी.

राहत कर्मी क़रीब एक किलोमीटर गहरी गुफा में घायल पड़े 52 साल के एक व्यक्ति तक पहुंचने और उससे बात करने में कामयाब रहे. ये व्यक्ति खड़ा हो सकता है.

स्थानीय मीडिया में इस व्यक्ति का नाम योहान वेस्टहाउज़र बताया जा रहा है.

राहतकर्मी मान रहे थे कि वेस्टहाउज़र का शरीर आंशिक रूप से लकवाग्रस्त होगा. उम्मीद है कि राहतकर्मी अगले कुछ दिनों में उन्हें धरातल पर ला सकेंगे.

रिज़ेनडिंग जर्मनी की सबसे गहरी गुफा है.

दक्षिण जर्मनी के ब्रिक्टिसगाडन शहर के पास स्थित गुफा में राहत अभियान में क़रीब दो सौ लोग शामिल हैं.

राहत अभियान

इस सीधी गुफा में पहला बचावकर्मी सोमवार को पहुँचा.

बायर्न के सरकारी टीवी चैनल के मुताबिक़ इसके कुछ घंटे बाद गुफाओं में राहत अभियान में विशेषज्ञ एक ऑस्ट्रियाई डॉक्टर वाली टीम भी गुफा में उतरी.

अभियान में शामिल होने के लिए एक टीम स्विट्ज़रलैंड से भी आ रही है.

वेस्टहाउज़र अपने दो साथियों के साथ ईस्टर के बाद आने वाले सातवें रविवार की छुट्टियां मनाने के लिए उनटर्सबर्ग की पहाड़ियों पर गए थे. लेकिन रविवार सुबह चट्टान गिरने से वो घायल हो गए और गुफ़ा में फंस गए. इस दौरान उनके सिर और शरीर के बाकी हिस्सों में चोटें आईं, हालांकि उन्होंने हेलमेट पहना था, जो कि उन्हें पत्थरों के चोट से बचा नहीं पाया.

एक अधिकारी ने स्थानीय अख़बार से कहा, 'वह प्रतिक्रिया तो दे रहे हैं. लेकिन उनकी हालत ठीक नहीं है.'

जर्मन मीडिया के मुताबिक़ वेस्टहाउज़र उन शोधकर्ताओं में शामिल हैं, जिन्होंने इस गुफा की कुछ साल पहले खोज की थी.

इस दुर्घटना के बाद उनके एक साथी तो लोगों को सूचना देने के लिए गुफा से बाहर निकल आए, जबकि एक साथी उनके साथ गुफा में ही हैं.

कहा जा रहा है कि वेस्टाहाउज़र स्टुटगार्ट इलाक़े के हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार