विश्व कपः उदघाटन से पहले विरोध प्रदर्शन

विश्व कप का विरोध इमेज कॉपीरइट AFP

ब्राज़ील के विश्व कप के उद्घाटन मैच के मेजबान शहर साओ पाअलो में मैच शुरू होने से चंद घंटे पहले ही पुलिस ने मैच के ख़िलाफ़ हो रहे एक विरोध प्रदर्शन पर आंसू गैस का इस्तेमाल किया है.

पुलिस की इस कार्रवाई में एक प्रदर्शनकारी को गिरफ़्तार किया गया है और एक सीएनएन पत्रकार घायल हो गया है.

प्रदर्शनकारियों ने कहा कि उन्होंने स्टेडियम के नज़दीक विरोध मार्च करने की योजना बनाई थी, जहां उद्घाटन समारोह होने वाला है.

इसके अलावा टूर्नामेंट की मेज़बानी पर होने वाले खर्च के विरोध में ब्राज़ील के अन्य शहरों में विरोध प्रदर्शन की योजना बनाई गई है.

'विश्व कप नहीं होगा'

साओ पाअलो में टीवी फुटेज में दिखाया गया है कि एरीना कोरिंथियंस मार्ग पर स्थित मेट्रो स्टेशन के पास लगभग 50 प्रदर्शनकारियों को आंसू गैस और रबर की गोलियों का इस्तेमाल कर पुलिस ने तितर-बितर किया है.

प्रदर्शनकारी 'विश्व कप नहीं होगा' का जाप कर रहे थे.

सीएनएन के एंकर एलेक्स थॉमस ने कहा साओ पाउलो में मौजूद पत्रकार बारबरा एर्वानिटीडिस की दंगों की रिपोर्टिंग के दौरान बांह टूटने का अंदेशा है.

पिछले साल एक लाख से अधिक लोग बेहतर सार्वजनिक सेवाओं की मांग, भ्रष्टाचार और विश्व कप के आयोजन में लगने वाली भारी-भरकम रकम के ख़िलाफ़ देश भर में हुए विरोध प्रदर्शनों में शामिल हुए थे.

तब से लेकर ब्राज़ील में विश्व कप के आयोजन के ख़िलाफ़ कुछ छोटे स्तर के विरोध प्रदर्शन हुए हैं. इनमें से कुछ विरोध प्रदर्शनों में हिंसा भी हुई है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार