इराक़ संकट: अहम रिफ़ायनरी पर 'चरमपंथियों का कब्ज़ा'

  • 24 जून 2014
इमेज कॉपीरइट Reuters

इराक़ के सुन्नी चरमपंथियों ने दावा किया है कि उन्होंने उत्तरी बगदाद के बैजी में मौजूद मुख्य तेल रिफ़ायनरी पर कब्ज़ा कर लिया है.

चरमपंथियों के मुताबिक बीते दस दिनों से इस रिफ़ायनरी पर उनका कब्ज़ा है, हालांकि इराक़़ी सेना ने कई बार चरमपंथियों को हटाने की कोशिश की है.

दरअसल यह रिफ़ायनरी इराक़़ के एक तिहाई ईंधन की आपूर्ति करती है. ज़ाहिर है चरमपंथियों के इस पर कब्ज़ा होने के बाद से देश में ईंधन का संकट बढ़ सकता है.

चरमपंथियों का नेतृत्व इस्लामिक स्टेट इन इराक़़ ऐंड अल शाम यानी आईएसआईएस कर रहा है. इस समूह ने बगदाद के उत्तरी और पश्चिमी हिस्से पर अपना शिकंजा कस लिया है. इराक़़ के दूसरे सबसे बड़े शहर मोसूल पर भी इन्हीं लोगों का कब्ज़ा है.

बढ़ता शिकंजा

इसके अलावा सीरिया और जॉर्डन को जोड़ने वाले हिस्सों पर भी चरमपंथियों ने कब्ज़ा जमाया हुआ है.

चरमपंथियों के प्रवक्ता ने बताया है कि बैजी रिफ़ायनरी को स्थानीय क़बायलियों के नियंत्रण में दे दिया जाएगा. प्रवक्ता के मुताबिक चरमपंथी लगातार बगदाद की ओर बढ़ रहे हैं.

उत्तरी इराक़़ के इरबिल स्थित बीबीसी संवाददाता जिम म्यूर ने कहा है कि नियंत्रण वाले हिस्सों पर काबिज रहने और उन क्षेत्रों में ईंधन की आपूर्ति बरक़रार रखने के लिए रिफ़ानयरी पर कब्ज़ा करना बेहद जरूरी था.

इससे पहले अमरीकी विदेश मंत्री जॉन कैरी ने बगदाद में प्रमुख राजनीतिक नेताओं से मुलाकात के बाद कहा था कि अमरीका इराक़़ को हरसंभव और लगातार मदद देगा.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार