जूते तो बच गए पर नौकरी चली गई

  • 25 जून 2014
चीनी कम्युनिस्ट पार्टी का अधिकारी इमेज कॉपीरइट webo

बाढ़ से प्रभावित एक गाँव का दौरा करने गए एक चीनी अधिकारी को अपने जूतों को भीगने से बचाने के लिए एक ग्रामीण की पीठ पर सवारी करने के कारण बर्खास्त कर दिया गया है.

चीन के दक्षिणपूर्वी हिस्से में जून के मध्य आई बाढ़ से हजारों लोग विस्थापित हो गए हैं.

पूर्वी प्रांत जियांग्सी के लैंटियन गाँव में टखने बराबर पानी को पार कराने के लिए अधिकारी को अपनी पीठ पर ले जाते हुए ग्रामीण की तस्वीर इंटरनेट पर व्यापक रूप से साझा की गई.

चीनः 'भ्रष्ट' अधिकारियों की पोल खोल रही हैं नाराज़ प्रेमिकाएं

चाइना रेडियो इंटरनेशनल की ख़बरों के अनुसार, वांग नाम का ये अधिकारी एक नदी में पानी ऊपर चढ़ आने के कारण गायब हुए गाँव के बच्चों को तलाश करने गए थे.

अधिकारी को पीठ पर लादने वाले ग्रामीण डिंग के बारे में कहा गया है कि, वो एक क्लर्क हैं और उन्होंने वांग को कीचड़ वाला रास्ता पार कराने के लिए पीठ पर ले जाने का प्रस्ताव दिया था.

लेकिन वांग को यह प्रस्ताव स्वीकार करना काफ़ी महंगा पड़ा और वो नौकरी से हाथ धो बैठे.

भारी बारिश से बाढ़

इमेज कॉपीरइट

सरकारी समाचार एजेंसी शिन्हुआ के अनुसार, स्थानीय प्रशासन ने माना कि इस 'अनुपयुक्त व्यवहार' का नाकारात्मक सामाजिक असर पड़ा और इससे पार्टी के अधिकारियों की छवि ख़राब हुई है.

इपोक टाइम्स के अनुसार, यह पहली बार नहीं है कि इस तरह की तस्वीर पर लोगों ने नाराज़गी व्यक्त की. पिछले वर्ष झेजियांग प्रांत का दौरा करने गए कम्युनिस्ट पार्टी के युवा अधिकारी को रबर के जूते पहने एक बूढ़े व्यक्ति द्वारा ले जाते हुए तस्वीर खींची गई थी.

चीन: महंगे तोहफ़ों से फलता-फूलता भ्रष्टाचार

इस अधिकारी को स्थानीय सरकार के निर्माण कार्यालय के निदेशक के पद से हटाया गया था.

एक ब्लॉगर के हवाले से कहा गया था, ''यदि आप हवा में होने की हिम्मत करेंगे तो नागरिक आपको जमीन पर लाने को मजबूर कर देंगे.''

शिन्हुआ के अनुसार, जियांग्सी में 16 जून को हुई भारी बारिश के कारण 18,500 से ज़्यादा लोगों को विस्थापित होना पड़ा है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार