फ़लस्तीनी युवक की हत्या में छह गिरफ़्तार

फ़लस्तीनी युवक मोहम्मद अबू ख़देर इमेज कॉपीरइट AFP

फ़लस्तीनी युवक मोहम्मद अबू ख़देर की हत्या के संदेह में इसराइली पुलिस ने छह लोगों को गिरफ़्तार किया है.

ख़देर की मौत के बाद कई दिन तक हिंसक विरोध प्रदर्शन हुए थे.

इज़राइली पुलिस ने बीबीसी को बताया कि मोहम्मद अबू ख़देर की हत्या 'उनकी राष्ट्रीयता के कारण' की गई थी.

ख़देर का पूर्वी येरुशलम से अपहरण हुआ था. बुधवार को उनका शव मिला. उनकी पहली पोस्टरमॉर्टम रिपोर्ट में इशारा था कि उन्हें ज़िंदा जलाया गया था.

ख़देर की हत्या से पहले तीन इसराइली युवकों का अपहरण और हत्या हुई थी.

शुक्रवार को येरुशलम के शुफ़ात ज़िले में मोहम्मद अबू ख़देर का अंतिम संस्कार हुआ.

अंतिम संस्कार के पहले और बाद में सैकड़ों फ़लस्तीनी युवकों और इसरायली पुलिस के बीच संघर्ष हुआ.

युवक की कथित पिटाई

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption 12 जून को लापता हुए तीन इसराइली युवकों के शव कई दिनों बाद एक गड्ढे से मिले थे.

इससे संबंधित एक मामले में एक फ़लस्तीनी-अमरीकी किशोर तारिक़ ख़देर को पूर्वी येरुशलम में इसराइली पुलिस ने कथित तौर पर हिरासत में लेकर पीटा.

अदालत ने इस युवक को नौ दिन तक घर में नज़रबंद रखने का आदेश दिया है.

जांच के दौरान अमरीका के फ़्लोरिडा से आए 15 वर्षीय तारिक़ को बैत हानिना के येरुशलम क्षेत्र में रहने के निर्देश दिए गए हैं.

मोबाइल फ़ोन फ़ुटेज में ऐसा प्रतीत हो रहा है कि दो इसराइली पुलिसकर्मी लगातार तारिक़ के सिर पर मुक्का मार रहे हैं.

पुलिस के मुताबिक़ अबू ख़देर की हत्या के बाद फैली अशांति के दौरान यह युवक पुलिस पर हमलावर भीड़ का हिस्सा था.

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption तारिक़ ख़देर की इसराइली पुलिस ने कथित तौर पर पिटाई की है.

ख़देर का पोस्टमार्टम तीन इसराइली चिकित्सकों ने किया था. इस दौरान फ़लस्तीनी फ़ॉरेंसिक इंस्टीट्यूट के निदेशक सबेर अल आलाउल भी मौजूद थे.

आधिकारिक फ़लस्तीनी समाचार एजेंसी वाफ़ा ने अटार्नी जनरल के हवाले से कहा है कि अलाउल ने सबसे पहले सांस की नली में राख की पहचान की थी, जो ख़देर को 'ज़िंदा जलाए जाने' से अंदर पहुंची.

ख़बरों में कहा गया है कि अबू ख़देर के सिर में भी चोट लगी थी और उनका शरीर 90 प्रतिशत जला हुआ था.

हालांकि अभी पोस्टमार्टम की रिपोर्ट आधिकारिक रूप से जारी नहीं की गई है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार