फ़ीफ़ा टिकट मामले में गिरफ़्तारी

विश्व कप फ़ुटबॉल के टिकटों की मांग करते लोग इमेज कॉपीरइट Getty

विश्व कप फ़ुटबॉल के टिकटों की अवैध बिक्री मामले में फ़ीफ़ा की सहयोगी कंपनी मैच हॉस्पिटैलिटी के सीइओ को गिरफ़्तार किया गया है.

ब्राज़ील पुलिस ने मैच हास्पिटैलिटी में काम करने वाले रे ह्वेलन को रियो डी जेनेरियो में गिरफ़्तार किया. इसी होटल में फ़ीफ़ा के अधिकारी भी ठहरे हैं.

पिछले हफ़्ते पुलिस ने 11 लोगों को हिरासत में लेकर टिकटों की अवैध बिक्री के अंतरराष्ट्रीय गिरोह का पर्दाफ़ाश किया था.

अंतरराष्ट्रीय गिरोह

अवैध रूप से बेचे गए टिकटों में से कुछ खिलाड़ियों के हिस्से के थे.

पुलिस का कहना है कि गिरोह ने इस तरह हर प्रतियोगिता से क़रीब नौ करोड़ डॉलर की कमाई की. गिरोह पिछले चार विश्व कप से सक्रिय था.

अधिकारियों को संदेह है कि कुछ टिकट विदेशी पर्यटकों को बेचे गए हैं.

पुलिस इस सलिसिले में 'जूल्स रीमेट' नामक अभियान चला रही है. जूल्स रीमेट अंतरराष्ट्रीय फ़ुटबॉल महासंघ यानी फ़ीफ़ा के अध्यक्ष थे. उन्होंने ही 1929 में विश्व कप की पहल की थी.

गिरफ़्तारी पर स्वीट्ज़रलैंड की कंपनी मैच हॉस्पिटैलिटी ने अभी कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार