टाले जा सकते हैं एमएच-17 जैसे हादसे?

हवाई जहाज़ इमेज कॉपीरइट Air TeamImages

यूक्रेन में अलगाववादियों के इलाके में विमान गिरने से यात्री विमानों की सुरक्षा को लेकर चिंताए बढ़ गई हैं.

विमान हादसे के बाद यूक्रेन के ऊपर से कोई यात्री विमान नहीं गुजर रहा है.

लेकिन दुनिया के अन्य हिस्सों में भी संघर्ष हो रहे है जहां से अब भी यात्री विमान गुजर रहे हैं.

इराक़ और सीरिया ऐसे ही इलाक़े हैं.

हाल ही में तेल अवीव हवाई अड्डे से महज़ एक मील की दूरी पर रॉकेट गिरा था.

इस वजह से कुछ अमरीकी और यूरोपीय एयरलाइंस ने इसराइल जाने वाली अपनी उड़ानों को रद्द कर दिया है.

'मूल्यांकन काफ़ी नहीं'

इमेज कॉपीरइट AFP

ब्रिटिश एयरलाइन पायलट्स एसोसिएशन का कहना है कि जोखिम भरे वायुमार्गों के लिए सुरक्षा का मूल्यांकन करना भर काफी नहीं है.

एसोसिएशन के महासचिव जिम मैक्लसन के मुताबिक, वायुमार्गों पर सुरक्षा का स्तर एक जैसा होना चाहिए और इसे गुपचुप तरीके से तय नहीं करना चाहिए.

ब्रिटिश एयरलाइन पायलट्स एसोसिएशन ने संघर्ष वाले इलाक़ों में विमानों की उड़ानों के संबंध में अंतरराष्ट्रीय नागरिक उड्डयन संगठन (आईसीएओ) से एक समान नियम बनाने की अपील की है.

एसोसिएशन का ये भी कहना है कि अंतरराष्ट्रीय नागरिक उड्डयन संगठन दरअसल संयुक्त राष्ट्र का ही एक अंग है जो दुनियाभर में विमानों की आवाजाही और सुरक्षा संबंधी तालमेल के लिए ज़िम्मेदार है.

'बेहतर तालमेल की कमी'

इमेज कॉपीरइट AFP

एसोसिएशन का कहना है कि अंतरराष्ट्रीय नागरिक उड्डयन संगठन को इस मामले में पहले से कहीं अधिक बेहतर तरीके से काम करने की ज़रूरत है.

मैक्लसन का कहना है, ''अंतरराष्ट्रीय नागरिक उड्डयन संगठन का उद्देश्य वहां नेतृत्व प्रदान करना होना चाहिए जहां कुछ देश ऐसा नहीं कर पा रहे हों और ऐसा करने के लिए उसके पास साधन भी होने चाहिए.''

वे कहते हैं, ''समस्या ये थी कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर तालमेल नहीं था. पूर्वी यूक्रेन में जो हुआ, दोबारा न हो, इसके लिए अंतरराष्ट्रीय नागरिक उड्डयन संगठन को बेहतर बनाना होगा.''

मलेशिया एयरलाइंस की उड़ान संख्या एमएच 17 में चालक दल के 15 सदस्यों के अलावा 283 यात्री थे.

हादसे के बाद विमान में सवार कोई व्यक्ति जीवित नहीं बचा. हादसा क्यों हुआ, इसकी वजह अभी पक्के तौर पर पता नहीं चल पाई है.

पश्चिमी देश पूर्वी यूक्रेन के रूस समर्थक विद्रोहियों पर विमान को मार गिराने का आरोप लगा रहे हैं जबकि रूस का कहना है कि विमान को यूक्रेन ने मार गिराया है.

(बीबीसी हिंदी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार