यूक्रेन: नीदरलैंड्स भेजे जाएंगे मृतकों के शव

  • 23 जुलाई 2014
मलेशिया एअरलाइंस विमान हादसा, पूर्वी यूक्रेन इमेज कॉपीरइट Reuters

पिछले सप्ताह पूर्वी यूक्रेन में विद्रोहियों का शिकार बने मलेशिया एअरलाइंस विमान में सवार लोगों के शव पहचान के लिए नीदरलैंड्स भेजे जाएंगे.

वहीं डच अधिकारियों का कहना है कि शवों की तलाश जारी रहनी चाहिए.

पूर्वी यूक्रेन में होने वाले इस विमान हादसे में अब तक लगभग 200 लोगों के शव मिले हैं.

यह विमान हादसा कथित तौर पर विद्रोहियों के कब्ज़े वाले इलाक़े में एक मिसाइल हमले के कारण हुआ था.

(विमान हादसाः अब तक 196 शव मिले)

दावे 'विश्वसनीय नहीं'

17 जुलाई को निशाना बनाए गए मलेशिया एअरलाइंस के एमएच-17 विमान में सवार सभी 298 लोग मारे गए थे. इसमें अधिकतर यात्री डच थे.

इमेज कॉपीरइट Reuters

अमरीकी खुफ़िया अधिकारियों ने मंगलवार को सबूतों की तरफ़ इशारा करते हुए कहा कि विद्रोहियों ने विमान को 'ग़लती से' मार गिराया था. लेकिन इस मामले में रूस का हाथ होने का कोई सबूत नहीं मिला है.

इमेज कॉपीरइट Reuters

समाचार एजेंसी एपी से अधिकारियों ने कहा कि रूस ने विद्रोहियों को हथियार देकर एमएच-17 विमान हादसे की 'परिस्थिति का निर्माण किया.'

इमेज कॉपीरइट AFP

हालांकि रूस ने बार-बार दोहराया है कि यूक्रेनी सरकार की सेना विमान हादसे के लिए जिम्मेदार है, लेकिन अमरीकी अधिकारियों के मुताबिकि रूस के दावे 'विश्वसनीय नहीं' थे.

(बीबीसी हिंदी का एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें. आप ख़बरें पढ़ने और अपनी राय देने के लिए हमारे फ़ेसबुक पन्ने पर भी आ सकते हैं और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार