इराक़ः अमरीका ने हवाई हमला शुरू किया

अमरीकी जंगी विमान

अमरीका का कहना है कि उसने इराक़ में सुन्नी चरमपंथियों पर हवाई हमले किए हैं.

पेंटागन ने कहा कि उत्तरी इराक़ में अमरीकी विमानों ने क़ुर्द पशमर्गा लड़ाकों के ख़िलाफ़ इस्तेमाल किए गए भारी हथियारों को निशाना बनाया है.

पेंटागन के मुताबिक दो एफए-18 विमानों ने पाँच सौ पाउंड वजनी लेज़र संचालित बमों से इरबिल के नज़दीक इस्लामी चरमपंथियों के भारी हथियारों को निशाना बनाया.

इस्लामी चरमपंथी इन हथियारों से क़ुर्द पशमर्गा लड़ाकों पर हमले कर रहे थे.

अमरीका का कहना है कि इरबिल में अमरीकी नागरिकों की रक्षा के लिए ये हमले किए गए हैं.

अमरीकी केंद्रीय कमांड ने राष्ट्रपति बराक ओबामा की अनुमति के बाद हमला करने का निर्णय लिया.

ओबामा ने कल कहा था, "यदि इस्लामी चरमपंथियों से अमरीकी नागरिकों या प्रतिष्ठानों को ख़तरा होगा तो अमरीकी सेना उनके ख़िलाफ़ सीधी कार्रवाई करेगी."

इस्लामिक स्टेट नाम का सुन्नी चरमपंथी गुट सीरिया और इराक़ के बड़े हिस्से पर कब्ज़ा कर चुका है.

जून में इस गुट ने उत्तरी इराक़ के शहर मोसूल पर कब्ज़ा कर लिया था. इस हफ़्ते के शुरु में चरमपंथियों ने इराक़ के सबसे बड़े ईसाई शहर क़ाराकोश पर भी कब्ज़ा कर लिया था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)