ईसा मसीह की प्रतिमा में इंसान के दांत!

  • 12 अगस्त 2014
मैक्सिको, ईसामसीह की प्रतिमा इमेज कॉपीरइट angel guardian

मैक्सिको में सैन बार्टोलो क्वाट्लाल्पैन में पादरियों की बस्ती में लगी सब्र के देवता की मूर्ति हमेशा ही भुतहा लगती रही है.

ईसा मसीह की इस मूर्ति के पीड़ा के भाव, गर्दन पर बहता ख़ून. मुंह, हाथ और घुटनों पर घाव देखने वालों की कंपकंपी छुड़ा देते थे.

लेकिन ऐसा लगता है कि यह अब तक के अनुमानों से और भी ज़्यादा वास्तविक और भयंकर है. 18वीं सदी की इस कलाकृति का पुनर्निर्माण कर रहे विशेषज्ञों को पता चला है कि इस प्रतिमा के आठ दांत इंसान के हैं.

मैक्सिको के नेशनल इंस्टीट्यूट और एंथ्रोपोलॉजी और हिस्ट्री ने यह जानकारी दी है.

पुनर्निर्माण कार्य की प्रमुख फ़ैनी यूनिकेल कहती हैं, "संभवतः दांतों को कृतज्ञता जताने के लिए दान दिया गया होगा."

मैक्सिको में कई जगह कपड़ों और पैसे के साथ ही संतों के विग बनाने के लिए बाल भी दान देने का चलन है.

इमेज कॉपीरइट national institute of anthropology and history

हालांकि प्रतिमा के दांत और नाखून सामान्यतः हड्डियों और पशुओं की सींगों से बनाए जाते हैं.

लेकिन मैक्सिको के नेशनल स्कूल ऑफ़ रेस्टोरेशन, कंज़र्वेशन एंड म्यूज़िओलॉजी के निदेशक को यह आश्चर्यजनक नहीं लगता. यूनिकेल कहती हैं कि महत्व जताने के लिए स्मृति चिन्हों को अलग तरह से पेश किया जाता था.

वह बताती हैं कि कि एक सदी पुरानी मूर्ति होने के बावजूद दांत एकदम सही हालत में हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार