अमरीकाः काले युवक की मौत के बाद दंगे

अमरीका, मिसौरी, दंगे इमेज कॉपीरइट Reuters

अमरीका में मिसौरी शहर में पुलिस की गोलीबारी में एक काले युवक की मौत के दो दिन बाद भी दंगे जारी हैं.

शनिवार को एक पुलिस कार में संघर्ष के बाद निहत्थे माइकल ब्राउन को कई गोलियां मारी गई थीं.

मुख्यतः काले लोगों की रिहाइश वाले फ़र्ग्युसन (टॉम जैकसन) इलाके में हत्या के बाद रविवार को दंगे भड़क गए थे, जिसके बाद 32 लोगों को गिरफ़्तार किया गया.

क्षेत्र के पुलिस प्रमुख ने कहा कि भीड़ में मौजूद लोगों ने पुलिस पर पत्थर फेंके और गोलियां चलाईं.

दंगाइयों को तितर-बितर करने के लिए पुलिस ने आंसू गैस के गोले दागे और रबड़ की गोलियां चलाईं.

भीड़ ने दुकानों को लूटा, कारों और स्टोर्स में तोड़फोड़ की और जब पुलिस ने शहर के कई इलाकों को जाने वाले रास्तों को रोक दिया तो उन्होंने एक इमारत में आग लगा दी.

इमेज कॉपीरइट Reuters

अमरीका की केंद्रीय जांच एजेंसी एफ़बीआई और अमरीकी न्याय विभाग ने मामले की जांच शुरू कर दी है.

माइकल के लिए इंसाफ़ की मांग करते हुए उनके पिता ने कहा कि उनका बेटा एक 'अच्छा लड़का' था और 'इस सबका हक़दार नहीं था'.

मानवाधिकार कार्यकर्ता इस हत्या की तुलना 2012 में फ़्लोरिडा में नेबरहुड वॉच ऑर्गेनाइज़र द्वारा 17 वर्षीय ट्रेवन मार्टिन की हत्या से कर रहे हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार