इबोलाः तीन देशों के लोग नहीं आ सकते कीनिया

  • 17 अगस्त 2014
इबोला वायरस का संक्रमण इमेज कॉपीरइट AFP

घातक इबोला वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए कीनिया ने सिएरा लियोन, लाइबेरिया और गिनी से लोगों के आने-जाने पर रोक लगा दी है.

लेकिन कीनिया के स्वास्थ्य मंत्री जेम्स मचारिया ने कहा कि इन देशों से आने वाले कीनियाई नागरिकों को 'कड़ी जांच' का सामना करना होगा और उन्हें ज़रूरत पड़ने पर अलग भी रखा जा सकता है.

इबोला वायरस का संक्रमण पश्चिम अफ्रीकी देश गिनी में फ़रवरी से शुरू हुआ था.

इबोला पर क़ाबू पाने में लगेंगे 'छह महीने'

लाइबेरिया में प्रदर्शन

कीनियन एयरवेज़ के अधिकारियों ने बताया कि उड़ानों पर पाबंदी मंगलवार की मध्यरात्रि से लागू हो जाएगी.

इमेज कॉपीरइट AFP GETTY

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कहा था कि कीनिया में इबोला के फ़ैलने का 'भारी ख़तरा' है.

इमेज कॉपीरइट Getty

वहीं इबोला वायरस के संक्रमण को लेकर लाइबेरिया में लोग विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं.

इमेज कॉपीरइट Getty
Image caption बंद पड़े फ़ोटो स्टूडियों के सामने बैठी एक महिला.

लाइबेरिया में सैकड़ों लोगों ने 'यहां इबोला नहीं है' का नारा लगाते हुए प्रदर्शन किया.

समाचार एजेंसी एएफ़पी के मुताबिक़ लाइबेरिया के एक कैंप से कुछ मरीज 'बचकर' निकल गए. इस केंद्र पर दवा समाप्त हो गई थी.

इमेज कॉपीरइट Getty
Image caption हमले की आशंका के कारण बाहर निकलने का अनुरोध करते लोग.

लाइबेरिया में प्रदर्शनकारियों ने कैंप में रह रहे लोगों को बाहर निकालने की कोशिश की.

(बीबीसी हिंदी का एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें. आप ख़बरें पढ़ने और अपनी राय देने के लिए हमारे फ़ेसबुक पन्ने पर भी आ सकते हैं और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार